प्रगतिशील समाजवादी पार्टी में भारतीय जन सेवा पार्टी का विलय : UP Election 2022

    राजधानी लखनऊ में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी में भारतीय जन सेवा पार्टी का विलय हुआ। 2022 चुनावी सरगर्मियो के बीच देखने में आया कि मुर्तुज़ा अली की अगुवाई में हज़ारों कार्यकर्ताओं के साथ कई धर्मगुरू भी शिवपाल यादव की मौजूदगी में प्रसपा पार्टी में शामिल हुए।

    बताया गया कि भारतीय जन सेवा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी लक्ष्मीशंकराचार्य एवं राष्ट्रीय महासचिव मुर्तजा अली ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यछ शिवपाल यादव से विचार विमर्श के बाद भारतीय जन सेवा पार्टी का प्रगतिशील समाजवादी पार्टी में विलय किया।

    भारतीय जन सेवा पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव मुर्तज़ा अली ने बताया कि विलय के बाद पार्टी के साथ मज़बूती से खड़े होकर गरीबों, मज़दूरों, मजलूमों और किसानों के हक़ की आवाज़ उठाएंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि शराब बंदी को लेकर उनकी शिवपाल यादव से बात हुई अगर उनकी सरकार बनी तो उत्तर प्रदेश में पूरी तरह शराब पर पाबंदी लगाई जाएगी।

    दवाई लेकर वापस आ रही महिला के साथ हुई वारदात CCTV में हुआ कैद

    वहीं दूसरी तरफ प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव ने इस मौके पर कहा कि उनकी पार्टी मुर्तजा अली के जुड़ने के बाद से उत्तर प्रदेश में बड़ी हो जाएगी। साथ ही उन्होंने कहा कि शराबबंदी को लेकर भी वो लोग काम करेंगे और उत्तर प्रदेश के अंदर शराब के ऊपर पूर्णता रोक लगाएंगे। इस दौरान उन्होंने भाजपा पर भी जमकर निशाना साधा।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here