कमलेश तिवारी हत्याकांड की जांच करेगी एनआईए: CM

उत्तर प्रदेश लखनऊ में कई दिनों से बहुचर्चित कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्ती दिखाते कहा है की कमलेश हत्याकांड के किसी भी अपराधी को नहीं बख्शा जायेगा। उन्होंने इस मर्डर केस की जांच एनआईए से कराने की बात कही है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा की एसआईटी एनआईए को इसमें मदद करेगी। बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री योगी शनिवार शाम को महाराष्ट्र में चुनावी जनसभा करने के बाद वापस आकर कमलेश तिवारी के परिजनों से मुलाकात करेंगे। इसके अलावा कमलेश तिवारी का अंतिम संस्कार प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में होगा।

बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री योगी शनिवार शाम को महाराष्ट्र में चुनावी जनसभा करने के बाद लौटने पर कमलेश तिवारी के परिजनों से मुलाकात करेंगे। बता दें की कमलेश तिवारी के परिजनों और लखनऊ प्रशासन के बीच समझौता हो गया है। वैसे तो समझौते में बहुत सारी बातें हैं। लेकिन कमलेश तिवारी के शुभचिंतकों और प्रशासन के बीच जिन मांगों पर सहमति बनी है उनमें कुछ खास मांग ये हैं, समझौते के तहत प्रशासन ने कमलेश तिवारी के परिजनों को आर्थिक मदद देने, बड़े बेटे के लिए सरकारी नौकरी दिलाने की बात कही ने, इतना ही लखनऊ शहर के अंदर एक उचित मकान की व्यवस्था करने और परिवार की सुरक्षा के लिए 48 घंटे में उचित व्यवस्था प्राप्त करने की बात कही है।

हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी मर्डर केस की जांच में मुकेश ने जानकारी देते हुए कहा है कमलेश हत्याकांड की जाँच एनआईए टीम से कराने का फैसला लिया गया है। इसके साथ ही लखनऊ के पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी भी इस मामले में उन पुलिसकर्मियों की जांच करेंगे जो कमलेश की हत्या वाले दिन उनकी सुरक्षा में लगे हुए थे। पहले से गठित एसआईटी इस मामले की जांच करते हुए एनआईए को मदद करेगी। बता दें की एनआईए टीम की जाँच का आदेश मिलने से पहले ही एटीएस और एसटीएफ घटना वाले दिन से ही इस केस को सुलझाने और आरोपियों की तलाश में लगे हुए हैं।