राहुल गांधी: आर्थिक पैकेज से लोगों की जेब में नहीं पहुंचेगा पैसा

rahul gandhi attack on government
image source - google

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार द्वारा एलान किए गए 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज को लेकर कहा कि “आज हमारे गरीब लोगों को पैसे की जरूरत है। मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अनुरोध कर रहा हूं कि उन्हें इस पैकेज पर पुनर्विचार करना चाहिए। गरीबों के बैंक अकाउंट में पैसे सीधा डलने चाहिए।

आगे राहुल गांधी ने कहा कि 200 दिनों के लिए मनरेगा और किसानों को पैसा देने पर केंद्र सरकार को विचार करना चाहिए। क्योंकि यह लोग हमारा भविष्य है। मैंने सुना है कि पैसे ना देने का कारण रेटिंग है, कहा जा रहा है कि वित्तीय घाटा बढ़ जाएगा तो विदेशी एजेंसी हमारी रेटिंग को नीचे कर देंगी। रेटिंग के बारे में मत सोचिए, हमारी रेटिंग गरीब, मजदूर, किसान और छोटे कारोबारी यह सब बनाते हैं। उनको पैसा दीजिए।

साहूकार का काम ना करे सरकार

राहुल गांधी ने संवाददाताओं से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आगे कहा कि सरकार ने जिस पैकेज की घोषणा की है, वह कर्ज का पैकेज नहीं होना चाहिए था। इसको लेकर मैं निराश हूं। गरीबों के बैंक अकाउंट में सीधे पैसे डालने की आज जरूरत है। सरकार कर्ज दे, लेकिन भारत माता को अपने बच्चों के साथ साहूकार का काम नहीं करना चाहिए। गरीबों को कर्ज की नहीं पैसे की आवश्यकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here