श्री राम पर शोध के लिए 30 लाख रुपए दे रही योगी सरकार

google

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने भगवान राम के अंतर्राष्ट्रीय पदचिह्न पर अध्यन के लिए 30 लाख रूपये दिये है। इसमें भगवान राम के शिलालेखों और मध्य अमेरिका में होंडुरास के जंगल में भगवान हनुमान की खोजी गई एक मूर्ति का अध्ययन भी शामिल हैं।

दीक्षांत परेड समारोह, 171 रिक्रूट आरक्षियों को दिलायी गई शपथ

अयोध्या में भगवान राम का एक म्यूजियम भी बनाया जाएगा।राज्य सरकार ने अयोध्या में एक शोध संस्थान “अयोध्या शोध संस्थान” को इसके लिए 30 लाख रुपए आवंटित किए हैं। सरकार ने राम संस्कृति की विश्व यात्रा पर शोध के लिए 15 लाख रुपए की पहली किश्त भी दे दी है। राज्य संस्कृति विभाग द्वारा जारी निर्देश के बाद यह राशि जारी की गई है।

आपको बता दे की शोध संस्‍थान ने बताया कि इटली में भगवान राम, सीता, लक्ष्‍मण, हनुमान और रामायण के विभिन्‍न घटनाओं के चित्र मिले हैं जो करीब 5 ईसा पूर्व के हैं। इराक में राम और हनुमान की पेंटिंग की शक्‍ल में एक अभिलेख मिला है जो करीब ईसा पूर्व 2000 साल पुराना है। इराक में भारतीय राजदूत ने कथित रूप से शोध संस्‍थान से इसकी पुष्टि की है।