वो कौन सी webseries हैं जिन्हें आप परिवार के साथ देख सकते हैं ?

इस समय हम एक डिजिटल युग में ज़ी रहे हैं। जहाँ ज़िन्दगी और ज़िंदा रहने की जरूरतें ऑनलाइन हो गई। इंटरनेट आम लोगों की लाइफलाइन बन चुका है। और मोबाइल फ़ोन्स के बिना लोग टॉयलेट तक नहीं जाते। साल 2020 में कोरोना महामारी के बीच ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर कई नई webseries रिलीज़ हुई।

webseries का नाम सुनते ही आपके और हमारे दिमाग़ कुछ images बनने लगती हैं मसलन सेक्स,क्राइम,ड्रग्स और गालियाँ किसी भी webseries की मूल थीम होती है। ज़्यादातर webseries से यदि सेक्स,क्राइम,ड्रग्स,हिंसा और गालियाँ हटा दिया जाये तो उसमे दर्शकों के देखने लायक कुछ नहीं बचता। सवाल यह उठता है कि क्या भारतीय दर्शकों को वास्तव में गैरजरूरी हिंसा और गालियां बहुत प्रिय हैं ? या ऐसा जानबूझकर एक ट्रेंड के जरिये दर्शकों को परोसा जा रहा है ?

 

 

आज हम बात करने जा रहे हैं 2020 में रिलीज़ 5 ऐसी चुनिंदा weseries की जो आपको स्वस्थ मनोरंजन को गारण्टी देती हैं। ये सभी सीरीज आप अपने परिवार के लोगों के साथ बैठ कर देख सकते हैं।

पंचायत

यह एक साफ़ सुथरी विशुद्ध मनोरंजक weseries है। जिसकी कहानी केकेंद्र में है एक गाँव, नवनियुक्त पंचायत सेक्रेटरी और वहाँ के ग्रामप्रधान, ग्रामप्रधान की बीबी और उनका बॉडीगार्ड। गाँव में एक नए पंचायत सेक्रेटरी की नियुक्ति होती है। जो शहर से गाँव में रहने आता है। गाँव में अपने प्रवास के दौरान सेक्रेटरी साहब को शुरुआत क्या दिक्क़तें आती हैं ? गाँव के निवासियों से कैसे तालमेल बिठाते हैं ? और काम के दौरान ग्राम प्रधान का क्या दख़ल होता है ? इन सारे एंगल्स को बड़ी बखूबी से फिल्माया और दिखाया है। बेहतरीन कहानी, अनूठे concept, शानदार फिल्मांकन और रघुवीर यादव तथा जितेंद्र कुमार के साथ साथी कलाकारों के दमदार अभिनय के लिए यह webseries देख सकते हैं।

निर्देशक – दीपक कुमार मिश्रा , लेख़क – चन्दन कुमार
पात्र – जीतेन्द्र कुमार, नीना यादव, रघुवीर यादव, चन्दन रॉय , फ़ैसल मलिक
@Amazon Prime

 

कोटा फैक्ट्री

कोटा फैक्ट्री कहानी है उन बच्चों की जो देश के विभिन्न हिस्सों से कोटा आकर यहाँ IIT की तयारी करते हैं। कोटा आने के बाद उन बच्चों की ज़िन्दगी में क्या बदलाव आते हैं ? उन्हें किन परिस्थितियों का सामना करना होता है ? और कैसे कोटा जैसा छोटा सा शहर कोचिंग तथा हॉस्टल इंडस्ट्रीज के एक हब के रूप में विकसित हो चुका है ? पुरी सीरीज में 5 एपिसोड हैं। यह webseries यूट्यूब पर फ्री में उपलब्ध है।

निर्देशक – राघव सुब्बू ,
पात्र – मयूर मोर , जीतेन्द्र कुमार, रंजन राज, आलम खान, रेवती पिल्लई , उर्वी सिंह
@Youtube

बंदिश बैंडिट्स

यह webseries संगीत प्रेमियों के लिए किसी तोहफे से कम नहीं है। लम्बे समय बाद कानों को कर्णप्रिय शास्त्रीय संगीत सुनने को मिलता है। कहना गलत न होगा कि यह सीरीज संगीत के एक महाकाव्य है। जिसकी शुरुआत संगीत से होती है और क्लाइमेक्स भी संगीतमय है। इस webseries में शास्त्रीय संगीत और वेस्टर्न म्यूजिक का फ्यूज़न दिखाया गया है। यह सीरीज राजस्थान के एक ऐसे संगीत घराने की कहानी है जिसके लिए संगीत ही सबकुछ है। और संगीत बढ़कर कुछ नहीं। संस्कारों और आदर्शों का दैनिक जरूरतों से टकराव होने पर एक गज़ब का विरोधभास उत्पन्न होता है। यह एक ऐसे परिवार की कहानी है जिसके सभी सदस्य आपस में बिखरे हुए हैं और कैसे संगीत परिवार के सभी सदस्यों को जोड़ता है और एक दूसरे को पास लाता है। सभी कलाकारों ने बेजोड़ अभिनय किया है।

निर्देशक – आनंद तिवारी
पात्र- श्रेया चौधरी , ऋत्विक भौमिक ,नसीरुद्दीन शाह , अतुल कुलकर्णी ,शीबा चड्ढा ,राजेश तेलांग , अमित मिस्त्री , कुणाल रॉय कपूर
@Amazon Prime

दि वर्डिक्ट स्टेट vs नानावटी

यह webseries एक सच्ची घटना से प्रेरित है। इससे पहले इस विषय पर बॉलीवुड में रुस्तम नाम से एक फिल्म भी बन चुकी है। लेकिन यकीन मानिए इस पुरे मामले को जितने डिटेल्स के साथ इस series में दिखाया गया उसे देखकर आपका ज्ञानवर्धन होने वाला है। इस पूरी सीरीज की जो ख़ास बात है वह है इसका कसा हुआ निर्देशन। सभी कलाकारों का अभिनय सराहनीय व अद्वितीय है। सुमित व्यास जो काफी कम फिल्मो में दिखते हैं इस series में उनका अभिनय लाजवाब है। उनके द्वारा निभाया गया राम जेठमलानी का चरित्र दशकों तक याद किया जायेगा।

निर्देशक – Shashant Shah,
पात्र – सुमित व्यास , मानव कौल , मकरन्द देशपाण्डेय, सौरभ शुक्ला, Elli Avram, अंगद बेदी
@Altbalaji

 

Scam 1992
The Harshad Mehta Story

नाम से ही पता चल रहा है कि यह webseries 1992 में हुए सबसे बड़े शेयर मार्केट घोटाले पर आधारित है। जिसका मुख्य अभियुक्त था हर्षद मेहता। इस घोटाले की छींटे तात्कालिक प्रधानमंत्री पी वी नरसिम्हाराव के दामन तक पहुंची थीं। हर्षद मेहता नब्बे के दशक में एक शेयर मार्केट की दुनिया का सबसे बड़ा नाम था। उसकी मंहगी कारों और आलीशान ज़िन्दगी के बारे में बड़ी बड़ी पत्रिकाओं में लेख छपते थे। लोगों की नज़र में हर्षद मेहता हीरो हुआ करता था। लेकिन घोटाला सामने आते ही उसकी ज़िन्दगी आफतों से भर गई। क्या था वह घोटाला ? कितना बड़ा था ? कैसे हुआ था ? और क्या वास्तव में हर्षद मेहता उन घोटालों का दोषी था ? इन सभी प्रश्नों के उत्तर आपको यह webseries उपलब्ध कराती है।

निर्देशक – हंसल मेहता जय मेहता,
पात्र – प्रतीक गाँधी, श्रेया धनवंतरी , के के मेहता , निखिल द्विवेदी , चिराग़ वोहरा , अनन्त नारायण महादेवन, अंजलि बरौत, हेमंत खेर
@zee5

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here