JMI लाइब्रेरी का वीडियो वायरल, प्रियंका गाँधी ने सरकार को घेरा

police brutality in JMI Library
google

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) तथा भारतीय राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) को लेकर देश की राजधानी दिल्ली में जामिया मिल्लिया इस्लामिया (JMI) के छात्रों ने पिछले साल शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन किया था। इसके बाद 15 दिसंबर को दिल्ली पुलिस (Delhi Police) जामिया की ओल्ड लाइब्रेरी के अंदर घुसी और पढ़ाई कर रहे छात्रों को बुरी तरह से पीटा था। अब उस घटना का सीसीटीवी फुटेज लगभग दो महीने के बाद वायरल हुआ है।

प्रियंका गाँधी का महिलाओं पर बढ़ते अपराध को लेकर योगी सरकार पर वार

इस वीडियो के सामने आने के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी वाड्रा ने सरकार पर निशाना साधा है। एक ट्वीट करते हुए उन्होंने कहा है कि “देखिए कैसे दिल्ली पुलिस पढ़ने वाले छात्रों को अंधाधुंध पीट रही है। एक लड़का किताब दिखा रहा है लेकिन पुलिस वाला लाठियां चलाए जा रहा है”। इसी ट्वीट में उन्होंने आगे कहा है कि “गृह मंत्री और दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने झूठ बोला कि उन्होंने लाइब्रेरी में घुस कर किसी को नहीं पीटा”। एक अन्य ट्वीट करते हुए कांग्रेस महासचिव ने कहा है कि “इस वीडियो को देखने के बाद जामिया में हुई हिंसा को लेकर अगर किसी पर एक्शन नहीं लिया जाता तो सरकर की नीयत पूरी तरह से देश के सामने आ जाएगी”।

सामने आये सीसीटीवी फुटेज में साफ़ दिखाई दे रहा है कि छात्र पढ़ाई कर रहे हैं और पुलिस अचानक अंदर घुसकर छात्रों को बुरी तरह पीटना शुरू कर देती है। जामिया कॉर्डिनेशन कमेटी (JCC) द्वारा इस वीडियो को उपलब्ध कराया गया है। पुलिस की पिटाई से बड़ी संख्या में छात्र घायल हो गए थे और एक छात्र की आंख भी गई थी। यह लाइब्रेरी अभी तक नहीं खुल सकी है। इस मामले को लेकर जामिया प्रशासन ने पुलिस के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया था हालाँकि पुलिस अभी जांच करने की बात बता रही है वहीँ छात्र दिल्ली पुलिस के खिलाफ जेएमआई प्रशासन से सख्त से सख्त कार्यवाई करने की मांग कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here