बसों को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधने वाली विधायक को पार्टी ने किया निलंबित

congress mla aditi singh

उत्तर प्रदेश में इस समय प्रवासी मजदूरों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए बसों को लेकर राजनीति चल रही है। कांग्रेस ने 1000 बसों की सूची यूपी सरकार को दी थी। जिसमें बाइक, कार, एंबुलेंस, ऑटो रिक्शा के नंबर निकले। इसी को लेकर कांग्रेस विधायक आदित्य सिंह ने अपने ही पार्टी और प्रियंका गांधी पर निशाना साधा था। जिसके बाद आज उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया गया है। कांग्रेस के इस फैसले को लेकर अदिति सिंह ने कहा कि वह इस फैसले का स्वागत करती हैं।

कांग्रेस विधायक आदित्य सिंह ने ट्वीट कर कहा था कि आपदा के वक्त ऐसी निम्न सियासत की क्या जरूरत, 1000 बसों की सूची भेजी, उसमें भी आधी से ज्यादा बसों का फर्जीवाड़ा। 297 कबाड़ बसें, 98 ऑटो रिक्शा व एंबुलेंस जैसी गाड़ियां, 68 वाहन बिना कागजात के, यह कैसा क्रूर मजाक है। अगर बसें थी तो राजस्थान, पंजाब, महाराष्ट्र में क्यों नहीं लगाई।

आगे अदिति सिंह ने कहा कि कोटा में जब यूपी के हजारों बच्चे फंसे थे तब कहां थी ये कथाकथित बसें। तब कांग्रेस सरकार इन बच्चों को घर तक तो छोड़िए, बॉर्डर तक ना छोड़ पाए। उस समय श्री मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने रातों-रात बसें लगाकर इन बच्चों को घर पहुंचाया। खुद राजस्थान के सीएम ने भी इसकी तारीफ की थी।

इसी को लेकर कांग्रेस ने रायबरेली के सदर से विधायक आदित्य सिंह को कारण बताओ नोटिस जारी कर जवाब मांगा है और पार्टी व पार्टी के महिला विंग के पदाधिकारी के पद से निलंबित कर दिया है। बता दें इससे पहले भी पार्टी लाइन से अलग चलने को लेकर कांग्रेस ने पहले भी आदित्य सिंह को कारण बताओ नोटिस जारी किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here