देर रात महिला ने पति के गुमशुदा होने की सूचना एडीसीपी को दी, 30 मिनट में सुरक्षित पहुंचाया घर

up police Find missing person in 30 minutes
image source - google

लॉक डाउन के दौरान पुलिस ना सिर्फ लोगों की सुरक्षा कर रही है, बल्कि हर संभव सहायता पहुंचाते हुए नजर आ रही हैं। इसी कड़ी में कल रात 2:30 बजे एडीसीपी चिरंजीवी सिन्हा के पास एक कॉल आता है। जिसमें एक रंजना बाजपेई नाम की महिला अपने पति जो कि पेशे से एक डॉक्टर हैं। उनके गुमशुदा होने की सूचना देती हैं। सूचना मिलते ही एडीसीपी चिरंजीवी सिन्हा ने तुरंत कार्यवाही करते हुए, अपने क्षेत्र के सभी पुलिस थानों पर इस बात की सूचना दी।

सूचना मिलते ही पुलिस हरकत में आ गई और महिला द्वारा बताए गए होलिये के अनुसार गुमशुदा व्यक्ति की तलाश शुरू कर दी। एडीसीपी चिरंजीवी सिन्हा और सभी पुलिसकर्मियों की मेहनत रंग लाई और बंथरा थाना के पास एक ढाबे के निकट गुमशुदा व्यक्ति को पुलिस ने मात्र 30 मिनट के अंदर ही खोज निकाला। इसके बाद एडीसीपी स्वयं महिला को लेकर उस स्थान पर गए और उनके पति की पहचान करा कर, उन्हें उनके घर सुरक्षित छोड़ा गया। बता दें गुमशुदा व्यक्ति डिमेंशिया का पेशेंट है। जो अपनी पहचान बता पाने में असमर्थ होते हैं।

लॉक डाउन का पालन ना होने पर सरकार नाराज, अपर मुख्य सचिव ने 40 जिलों को लिखा पत्र

पुलिस ने जिस फूर्ती के साथ देर रात में ही पीड़ित महिला के पति को खोज कर, उन्हें उनके घर सुरक्षित पहुंचाया। यह कार्य वाकई में सराहनीय है। पीड़ित महिला ने सभी पुलिसकर्मियों का हृदय से आभार व्यक्त किया। इसके साथ ही सुबह एडीसीपी चिरंजीवी सिन्हा के आने पर उनका फूल बरसा कर स्वागत किया गया। एडीसीपी के साथ कृष्णा नगर के इंस्पेक्टर धर्मेंद्र उपाध्याय, एसआई प्रभा शंकर सिंह सहित पूरी टीम मौजूद थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here