उन्नाव रेप कांड में नया मोड़ ,अब ये मामला आया सामने

Google

प्रदेशभर में उन्नाव रेप कांड को लेकर सनसनी मची हुई है,जिसमे पुलिस से लेकर सरकार तक की क़ानून व्यवस्था पर सवालिया निशान खड़े कर दिए हैं। इसी के चलते इस मामले पर एक नया मोड़ सामने आया है जिसमे पीड़िता द्वारा महिला आयोग को दी गयी तहरीर में ये बात सामने आयी की उसके साथ आरोपियों ने पहले भी प्रेम जाल में फंसाकर कई बार बलात्कार किया गया है।

उन्नाव रेप कांड – इस जगह पर आरोपियों ने दिया वारदात को अंजाम

और ये बात आयी सामने 

जनपद उन्नाव के महिला आयोग उत्तर प्रदेश शासन लखनऊ के तहरीर सूचना दिया है की प्रार्थिनी को गांव के शिवम द्रिवेदी पुत्र रामकिशुन द्रिवेदी ने बहला फुसला कर अपने प्रेम जाल में फंसाया तथा राय बरेली भेजा कर मेरे साथ बलात्कार करके मोबाइल में वीडियो बना ली और वीडियो वायरल होने की धमकी देकर मेरे साथ लगातार बलात्कार करता रहा। जब मैंने शादी का दबाव बनाया तो शिवम द्वेदी मुझे रायबरेली ले आया और किराए का कमरा लेकर मुझे वहां रखा और मुझपर सदा नजर रखता था और कहीं भी बाहर नहीं जाने देता था। और जान से मारने की धमकी देता था इस बीच वह मुझे कई शहरों में ले जाता था, और मजबूर करके मेरे साथ बलात्कार करता रहा। जब मैंने शादी की जिद की तो राय बरेली सिविल कोर्ट ले आकर मुझे वैवाहिक अनुबंध पत्र तैयार कराकर लगभग एक महीने तक रायबरेली में रखा और उसके बाद गांव ले जाकर छोड़ गया। जब भी शादी के लिए कहती टालमटोल करता और अंत में विवाह के लिए मना कर दिया उसके बाद वह मुझे और मेरे परिवार को अपने साथियों की मदद से खत्म कर देने की धमकी भी देने लगा। इसके बाद आरोपी ने कई बार धमकाकर बलात्कार किया।

दिनाँक 5 /12 /2019 

आज दिनाक 5/12/2019 को सुबह अपने घर से निकल कर रायबरेली जा रही थी, गांव से एक किलोमीटर की दूरी पर बिहार मौरावां मार्ग पर उसके शरीर पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगने की सूचना डायल 112  के माध्यम से प्राप्त हुई।  उसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने पीड़िता को पीएचसी सुमेरपुर ले जाया गया जहां पर पीड़िता द्वारा एसडीएम बीघापुर के समक्ष दिए गए बयान में पांच व्यक्तियों को आरोपित किया गया जिसमें शुभम, शिवम , हरीशंकर उमेश व राम किशोर शामिल हैं।

उपरोक्त में से चार आरोपी शुभम, राम किशोर, हरिशंकर, उमेश को ग्राम हिन्दू नगर स्थित उनके घर से गिरफ्तार कर लिया गया है और विधिक कार्रवाई की जा रही है।

पीड़िता के भाई अनिल द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर शिवम व शुभम को आरोपी बनाया गया है ,उपरोक्त अभियोग की विवेचना प्रभारी निरीक्षक अजय कुमार त्रिपाठी द्वारा की जा रही है।