बेरोजगारी से तंग 25 वर्षीय बीएड छात्र ने खुद को किया मौत के हवाले

बेरोजगारी से तंग एक और युवक ने लगाई फांसी। यह घटना बांदा जिले में नगर कोतवाली क्षेत्र के जरैली कोठी मोहल्ला का है। आत्महत्या करने वाला बीएड छात्र नागेंद्र सिंह यहीं पर कमरा किराये पर लेकर रहता था।

एसएचओ बलजीत सिंह ने बताया कि युवक का शव कमरे की छत में लगे हुक से बंधी रस्सी से लटका हुआ मिला। उन्होंने बताया कि कमरे कि तलाशी लेने पर युवक द्वारा लिखा एक आत्महत्या लेख(सुसाइड नोट) मिला है। जिसमे लिखा है कि नौकरी न मिल पाने के कारण युवक बहुत ज्यादा परेशान था, जिससे उसने आत्महत्या का रास्ता चुना।

अंबेडकरनगर के जैतपुर थाना में तैनात महिला सिपाही ने की खुदकुशी

नगर कोतवाली क्षेत्र के प्रभारी बलजीत सिंह ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है।युवक मरका क्षेत्र के सांडा गांव का निवासी था, तथा बबेरू के डिग्री कॉलेज में बीएड का छात्र था। उन्होंने बता सुसाइड नोट को जांच के लिए भेज दिया गया है। तथा मामले कि छानबीन चल रही है।

बता दें वर्ष 2018 में सरकार कि तरफ से 69 हजार शिक्षक भर्ती निकाली गयी थी। जिसमे बीएड छात्रों को भी सम्मिलित किया गया था। कटऑफ मार्क्स को लेकर मामला अदालत में विचाराधीन है। जिसके चलते हजारों युवा अपनी नौकरी की आस लिए बैठे है।