जारी हुआ साइंस फिक्‍शन फिल्‍म ‘कार्गो’ का टीजर

kargo

साइंस की दुनिया पर बनी यह फिल्म अपने साथ एक ऐसी कहानी को लेकर आयी है, जिसके बारे में हम कल्पना भी नहीं कर सकते है। फिल्म के टीजर को देखकर तो यही लगता है कि यह फिल्म साइंस की दुनिया के जरिए मौत के बाद आने वाले जीवन की कहानी बताने वाली है।

क्या है इस फिल्म की कहानी

विक्रम मैसी और स्वेता त्रिपाठी के करीब इस 1 मिनट के टीजर में साइंस लैब से लेकर अंतरिक्ष के कई दृश्य तक दिखाए दिए गए हैं। आपको बता दें कि इस ‘कार्गो’ फिल्म की कहानी कुछ ऐसी है कि इस फिल्म में स्पेस शिप रोज सुबह पृथ्वी के पास आकर मरे हुए लोगों का इंतजार करती है।

साथ ही इस एक मिनट के टीजर में एक इंसान जो की साइंस लैब में बैठा हुआ है, और यह पूछ रहा है कि मतलब यह स्वर्ग है। इस टीजर के खत्म होने पर विक्रांत मैसी यह कहते है कि ‘प्रहस्त पोस्ट डेथ सर्विस का राक्षस आपका पुष्पक 643A में स्वागत करता हूं। अभी आप नेक्स्ट लाइफ में ट्रांजिशन के लिए तैयार हैं आप मेरे साथ आ सकते हैं।’

जैकलीन फर्नांडिस का न्यू सॉन्ग ‘कर्मा’ आउट

मामी फिल्म फेस्टिवल में सिलेक्ट हुई फिल्म

फिल्म की लेखक और डायरेक्टर दोनों ही आरती कादव है। लेकिन फिल्म का प्रोडक्शन नवीश शेट्‌टी, श्लोक शर्मा और अनुराग कश्यप द्वारा हुआ है। इस फिल्म को मुंबई इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल 2019 में चयनित किया गया है। ऐसा पहली बार हुआ है कि कोई फिल्म किसी भारतीय फीमेल एस्‍ट्रोनॉट पर फोकस करके बनायीं गयी हो। फिल्म में जो स्पेसशिप बनी है, उसके लिए डायरेक्टर आरती ने एक इंटरव्यू में कहा था कि इस स्पेसशिप का डिजाइन जेली फिश के बायो मैकेनिज्म से लिया गया है।

इससे पहले भी दोनों स्‍टार्स की अन्‍य फिल्‍म स्‍क्रीनिंग के लिए चुनी जा चुकी है, इस फिल्म से पहले विक्रांत और स्‍वेता त्रिपाठी की जोड़ी वेबसीरीज ‘मिर्जापुर’ की वजह से काफी हिट है। इस फिल्म से पहले पिछले वर्ष मुंबई फिल्‍म फेस्टिवल में स्‍वेता त्रिपाठी की फिल्‍म ‘हरामखोर’ को भी स्‍क्रीनिंग के लिए चुना गया था। इसके बाद उस फिल्‍म को पुरस्कृत भी किया गया था। स्‍वेता के अलावा फिल्म हरामखोर में अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी थे। फेस्टिवल में दिखाने के लिए विक्रांत मैसी की एक अन्‍य फिल्‍म राम प्रसाद की ‘तेरहवीं’ को भी चुना गया है। जो सीमा पाहवा की निर्देशन में डेब्‍यू की हुई फिल्‍म है। साथ ही ‘द इल्‍लीगल’ फिल्म जो की स्‍वेता त्रिपाठी की फिल्म है। इस फिल्म को भी इस बार फेस्टिवल में दिखने के लिए चुना गया है।