छात्रों ने क्रीड़ा अधिकारी के खिलाफ कार्यवाही के लिए जिला अधिकारी को सौंपा ज्ञापन

prevented the students from running
image source - google

रायबरेली के जिला अधिकारी कार्यालय के बाहर सैकड़ों की संख्या में पहुंचे छात्रों को गौर से देखिए इन्हें आर्मी की तैयारी करने के लिए दौड़ना होता है जिसका इन्होंने कार्ड भी बनवा रखा है। लेकिन इन्हें मोती लाल नेहरू में दौड़ने से मना किया जाता है। जिस बात से नाराज होकर सैकड़ो की संख्या में आज इन्होंने जिला अधिकारी को एक ज्ञापन दिया और मांग की है कि उन्हें दौड़ने की परमिशन दी जाए और क्रीड़ा अधिकारी पर कार्यवाही की जाए।

आपको बता दें कि मामला रायबरेली के मोती लाल नेहरू स्टेडियम का है जहां रोजाना सैकड़ो की संख्या में आर्मी की तैयारी कर रहे सैकड़ो छात्रों को दौड़ने से रोका जाता है। जिस बात से नाराज होकर आज जिला अधिकारी कार्यालय पहुच कर विरोध प्रदर्शन किया और जिला अधिकारी से मांग करते हुए कहा कि ऐसे भ्रष्ट क्रीड़ा अधिकारी को हटाया जाए।

वहीं क्रीड़ा अधिकारी पर गम्भीर आरोप लगाते हुए छात्रों ने कहा कि क्रीड़ा अधिकारी के द्वारा उनसे रसीद काटने के नाम पर ज्यादा पैसा लेते है, बाहरी लोग आकर वहां आई हुए लड़कियों के साथ अभद्रता करते है और क्रीड़ा अधिकारी कभी मैदान पर नही पहुचते।

नाती का हो चुका है निधन पर अपहरण की FIR लिखवाने के लिए भटक रही 100 वर्षीय नानी

भारत ही एक ऐसा देश है जहाँ पर युवाओं को प्रोत्साहित करने के बजाये उन्हें परेशान किया जाता है। जिन्हे देश का भविष्य कहा जाता है उनका ही भविष्य बनने में बाधा डाली जाती है। ये बात हम सिर्फ इस मामले को लेकर नहीं कह रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here