यू पी में रोजगार के सौगात: दिनेश शर्मा

● प्रदेश सरकार जल्द ही स्टार्टअप नीति लाएगी
● अगले पांच साल में पांच लाख युवाओं को मिलेगा रोजगार
● स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए एक हजार करोड़ रुपये का कॉर्पस फंड बनाया जाएगा
● भारत दुनिया का सबसे युवा देश, दिनेश शर्मा

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने युवाओं को सम्बोधित करते हुए कहा की युवा वह है जिसमें कुछ कर गुजरने की तमन्ना, कार्य करने का उत्साह तथा लक्ष्य को हासिल करने की उत्कंठा होती है। देखा जाये तो भारत आज दुनिया का सबसे युवा देश है। जबकि चीन की आबादी आयु के मामले में बूढी हो रही है। युवा इस देश का कर्णधार बने यही देश के प्रधानमंत्री का सपना है। उन्होंने कहा की ये युवा पीढ़ी हमारे देश का आने वाला कल है,इन्ही से हमारा देश आगे बढ़ रहा है। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार जल्द ही स्टार्टअप नीति लाएगी। इसका मुख्य उद्देश्य युवाओं को वित्तीय सहायता मुहैया कराने के साथ-साथ उन्हें विशेषज्ञों की सलाह दिलवाना भी होगा।

स्टार्टअप को देंगे बढ़ावा

दिनेश शर्मा ने बताया की प्रदेश में स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए एक हजार करोड़ रुपये का कॉर्पस फंड बनाया जाएगा। इसकी घोषणा उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में शनिवार को स्टार्टअप कॉन्क्लेव में की। बता दें की प्रदेश के आईटी एंड इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग ने अगले पांच साल में पांच लाख युवाओं को रोजगार मुहैया कराने का  लक्ष्य रखा है। इसका बड़ा हिस्सा नए उद्यमों (स्टार्टअप) के माध्यम से ही आएगा। इंडिया एंजेल नेटवर्क के संस्थापक डॉ. सौरभ श्रीवास्तव ने कहा कि रोजगार दिलाना एक बड़ी चुनौती है। इसे स्टार्टअप के माध्यम से दूर किया जा सकता है। एक रिपोर्ट के जरिये उन्होंने कहा कि अगले 7 साल में परंपरागत क्षेत्रों की 60 प्रतिशत से ज्यादा नौकरियां खत्म हो जाएंगी। ऐसे में भारत को अमेरिका की तर्ज पर स्टार्टअप पर जोर देना होगा। इस क्षेत्र में उन्होंने केरल और कर्नाटक के मॉडल भी सामने रखे।

उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने विपक्ष द्वारा विधानसभा शीतकालीन सत्र के बहिष्कार की निंदा की

रोजगार के अवसर होगे उपलब्ध

उन्होंने कहा की प्रदेश के बदले माहौल में आईटी एंड इलेक्ट्रॉनिक्स सेक्टर की कंपनियां बड़े पैमाने पर निवेश कर रही हैं। इससे जहां सरकार को राजस्व मिलेगा, वहीं युवाओं को रोजगार के अधिकाधिक अवसर भी उपलब्ध होंगे। इस दौरान स्टार्टअप के बारे में आम लोगों को जानकारी देने के लिए स्टार्टअप एक्सप्रेस मोबाइल वैन भी रवाना की गई। यह वैन प्रदेश के हर हिस्से में जाएगी। उन्होंने कहा की प्रदेश में स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए एक हजार करोड़ रुपये का कॉर्पस फंड बनाया जाएगा। इसका उपयोग नया उद्यम शुरू करने वाले लोगों की मदद में किया जाएगा।

देश को आगे बढ़ाने में युवा पीढ़ी सहायक

दिनेश शर्मा ने कहा कि किसी भी आन्दोलन के मूल में युवा ही होते हैं। इसी प्रकार 2014, 2017 तथा 2019 में भाजपा को मिली विजय के पीछे भी युवा थे जिनमें नया भारत बनाने की सोंच व उत्साह था। नौजवान ही परिवर्तन का वाहक बनते रहे हैं। झांसी की रानी से लेकर चन्द्रशेखर आजाद, भगत सिंह आदि सभी युवा थे जिन्होंने अंग्रेजों को उन्ही की भाषा में जवाब दिया। देश को युवाओंं ने नई राह दिखाने का काम किया।

उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानन्द भी युवा थे व जब अमेरिका गए तो वे साधारण वेषभूषा में थे। जिसके चलते आयोजकों ने उन्हे नीचे बैठने का स्थान दिया। इस पर जब आयोजक ने उनसे क्षमा मांगी तो स्वामी विवेकानन्द ने कहा कि यह नीचे का स्थान सबसे सुरक्षित है, जिसमें जरा सा भी अच्छा करने पर ऊपर जाने की संभावना रहती है। पर जब ऊपर होते हैं तो जरा सी चूक से नीचे आने का डर होता है। नीचे का स्थान अच्छा काम करने की प्रेरणा देता है।

स्टार्टअप युवाओं को किया सम्मानित

इस अवसर पर दिनेश शर्मा ने प्रदेश के विकास में योगदान देने वाले स्टार्टअप्स को सम्मानित किया। बेस्ट वूमेन एंटरप्रेन्योर का अवॉर्ड ‘ट्रैश कैश’, बेस्ट सोशल इंपैक्ट का अवॉर्ड ‘देवनागरी’ और ‘ईडी कैप्टन’ स्टार्टअप को दिया गया। बेस्ट स्टूडेंट का अवॉर्ड ‘सब रूम’ को मिला। वूमेन सेफ्टी एप बनाने के लिए लाडली एप की संस्थापक स्निग्धा सक्सेना को सम्मानित किया गया।

बेस्ट स्टार्टअप का अवॉर्ड ‘कुल सफारी’ की डायरेक्टर शैंपा सहाय को दिया गया। शैंपा ने हर रेसिपी के लिए एक मसाला तैयार किया है। उन्हें 2 लाख रुपये का चेक और मेमेंटो दिया गया। दूसरे स्थान पर इनटैलो सफर’ स्टार्टअप को 1.5 लाख रुपये और तीसरे स्थान पर रहे ‘वीटाजोन’ को 1 लाख रुपये का चेक दिया गया। आइडिएशन के क्षेत्र में कानपुर फ्लोरा साइक्लिंग को बेस्ट स्टार्टअप का अवॉर्ड दिया गया। नीर एग्री वेंचर्स फर्स्ट रनर अप और एडवेक्टो लीगल सॉल्यूशंस सेकंड रनर अप रहे।