घोटाले के आरोप के बीच तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट महासचिव का आया बयान

champat Rai
image source - google

Ayodhya में श्री राम मंदिर के लिए ली गयी जमीन में घोटाले के आरोप लगने के बाद से यूपी की राजनीति में हड़कंप मचा हुआ है। कल साधु-संतों ने घोटाले का आरोप लगाने वाले नेताओं को लेकर तीखी प्रतिक्रिया दी थी और आज ट्रस्ट के महासचिव का बयान आया है।

उन्होंने इस घोटाले के आरोप को लेकर कहा कि सभी लेनदेन बैंक टू बैंक हुए हैं और टैक्स में कोई चोरी नहीं की गई है। दुर्भाग्यपूर्ण है कि आरोप लगाने वालों ने आरोप से पहले ट्रस्ट के पदाधिकारियों से तथ्यों की जानकारी नहीं ली। उन्होंने समाज को भ्रमित किया है। भ्रमित न हों और मंदिर समय सीमा में पूरा करने में सहयोग करें।

जितना क्षेत्रफल है उसकी तुलना में इस भूमि का मूल्य 1423 रुपये प्रति वर्ग फीट है जो बाजार मूल्य से बहुत कम है। मालिकाना हक का निर्णय करना बहुत जरूरी था जो कराया गया। हमने जमीन का एग्रीमेंट करा लिया। अभी बैनामा कराया जाना बाकी है।

Ayodhya Shri Ram Mandir: ट्रस्ट पर लगे इतने करोड़ रुपए के घोटाले के आरोप

दरअसल सपा नेता पवन पांडेय और आप नेता संजय सिंह ने राम मंदिर के लिए ली गयी जमीन में करोड़ों रूपए के घोटाले के आरोप श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट पर लगाएं है। इसको लेकर साधु-संतों में काफी नाराजगी है। वहीँ यूपी सरकार ने इस मामले की जाँच करने कि बात कही है।

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × one =