शाहीन बाग़ में CAA के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन पर SC सख्त

SC strict on ongoing protest against CAA
google
  • सीएए एनआरसी को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार, दिल्ली सरकार और दिल्ली पुलिस को भेजा नोटिस
  • सार्वजनिक जगह पर अनंतकाल तक प्रदर्शन नहीं किया जा सकता : सुप्रीम कोर्ट

देश की राजधानी दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता शशोधन कानून (CAA) तथा भारतीय राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) को लेकर महिलाएं लगातार विरोध प्रदर्शन कर रही हैं। इस मामले की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट (SC) ने सख्त रवैया अपनाया है। कोर्ट का कहना है कि किसी सार्वजनिक जगह पर अनंतकाल तक प्रदर्शन नहीं किया जा सकता है और इसे लेकर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार, दिल्ली सरकार और दिल्ली पुलिस को नोटिस भेजा है। इस मामले पर 17 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट की अगली सुनवाई होगी।

CAA का विरोध कर रही महिलाओं ने समझने आये सदस्यों पर फेंकी चूड़ियां

सुप्रीम कोर्ट के जज एसके कौल और केएम जोसेफ की पीठ ने कहा है कि पिछले 58 दिन से सार्वजनिक स्थान पर लगातार प्रदर्शन चल रहा है। उनका कहना है कि विरोध करें लेकिन इसके लिए सार्वजनिक स्थान का उपयोग नहीं होना चाहिए। जस्टिस एसके कौल का कहना है कि सड़क को प्रदर्शन के लिए जाम नहीं किया जा सकता है। इससे पहले सुनवाई के दौरान जस्टिस एसके कौल और जस्टिस केएम जोसेफ की पीठ ने कहा था कि “हम इस बात को समझते हैं कि वहां समस्या है और हमें देखना होगा कि इसे कैसे सुलझाया जाए”। पीठ ने याचिकाकर्ताओं से कहा कि वह सोमवार को सुनवाई के दौरान इस बात पर बहस करने के लिए तैयार होकर आएं कि सीएए व एनआरसी के मामले को दिल्ली हाई कोर्ट को वापस क्यों नहीं भेजा जाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here