SP कार्यकर्ताओं ने निकाली पेट्रोलियम मंत्री की अर्थी, किया कोविड नियमों का उल्लंघन

sp workers protest against petroleum minister

पेट्रोलियम पदार्थो में हो रही बेतहासा मूल्य वृद्धि से आम जनता को महंगाई की मार झेलनी पड़ रही है। तो वंही अन्य राजनैतिक दलों ने अब इसको मुद्दा बनाकर सरकार को घेरने का काम कर रहे है। कानपुर के परेड चौराहे पर युवजन सपा के कार्यकर्ताओ ने पेट्रोलियम मंत्री की अर्थी बनाकर सड़क पर घुमाया।

इस दौरान सपा कार्यकर्ताओ ने पेट्रोलियम मंत्री मुर्दाबाद के नारे लगाए। सपा कार्यकर्ता परेड से निकलकर बड़े चौराहे तक जाकर प्रदर्शन करना चाह रहे थे। लेकिन पुलिस ने पहले से ही बैरिकेटिंग लगा रखी थी। जिससे सपा कार्यकर्ता आक्रोशित हो गए और वंही पर बैठकर प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे।

सपा युवजन सभा के अध्यक्ष बीरेंद्र त्रिपाठी का कहना है कि पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान की शव यात्रा निकाल कर उनको चेताया गया है। चुनाव की घोषणा के समय पेट्रोल के दाम एक बार भी नहीं बढ़ाये गए थे। लेकिन चुनाव रिजल्ट आने के बाद पेट्रोल के दाम बढ़ा दिए गए। उनका आरोप है कि पेट्रोलियम मंत्री का कहना है कोरोना वैक्सीन के लिए 35 हजार करोड़ रुपए फ्री दिया गया है।

BJP ने कहा हमारा बस एक सवाल, गांधी परिवार वैक्सीनेटेड है या नहीं?

जनता को मुफ्त राशन दिया जा रहा है। इसलिए पेट्रोल के दाम बढ़ाये गए है। उनका यह भी कहना है कि हमको मुफ्त आनाज और वैक्सीन नहीं चाहिए। इससे जनता तिल-तिल कर मर रही है। वंही कोविड नियमो का उल्लंघन करने के सवाल पर जवाब दिया कि कोरोना से अब डर नहीं महंगाई से डर लग रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here