UP : अधिकारीयों की लापरवाही से गिरी घर की छत मलबे में फसे लोग, कई घायल

Image

UP : मुरादाबाद के ग्राम पंचायत नरखेड़ा में बीते दिनों हुई बरसात से विधवा महिला के कच्चे मकान की छत मंगलवार की रात लगभग बारह बजे भर-भरा कर गिर गई। मकान के अंदर सो रहे परिवार के पांच सदस्य मलबे के अंदर दब गए। दबे हुए परिवार के सदस्यों की चीख-पुकार सुनकर पड़ोस के मोहल्ले वासी अनहोनी की आशंका जताते हुए मौके पर पहुंचे। पास जाकर देखा तो सब ठीक थे, कच्चे मकान के मलबे में दबे हुए परिवार के लोगों को काफ़ी जिद्दोजहद के बाद बाहर निकाला गया।

मलबे के अंदर दबने से परिवार के सदस्य तारमीन पत्नी इरफ़ान, बेटा कुर्बान अली, मेहरबान, रिहान, और बेटी बब्बो दबकर घायल हो गई। घायलों को ग्रामीणों की मदद से रात के समय में ही निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनका उपचार चल रहा है। ग्राम वासियों ने बताया कि तारमीन के पति इरफ़ान की करनपुर मार्ग पर पांच साल पहले सड़क हादसे में मौत हो चुकी है। उसके बाद से ही विधवा महिला तारमीन का परिवार मुसीबतों को झेलता चला आ रहा है। विधवा महिला के छोटे छोटे बच्चे मेहनत मजदूरी कर के जीवन यापन कर रहे थे कि इसी बीच में उनके उपर मुसीबतों का पहाड़ बनकर कच्चे मकान की छत गिरी पड़ी। जिससे घर में रखा अनाज कपड़े बर्तन सब दब गए।

UP : धूमधाम से मनाया गया शिक्षक दिवस, विधायक रोमी साहनी भी हुए शामिल

पीड़ित ने बताया कि मैं विकास खंड अधिकारियों से कई बार प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री आवास योजना के लिए आवेदन कर चुकीं हूं , मगर ब्लॉक स्तर पर किसी भी अधिकारी ने मेरे कच्चे मकान की तरफ ध्यान नहीं दिया। अगर आज मेरे परिवार के साथ कोई बड़ा हादसा हो जाता तो इसका कौन ज़िम्मेदार होता। मेरी जिला प्रशासन से अपील है कि ब्लॉक में बैठे अधिकारियों पर भी इस तरह कि घटना होने पर उनकी जिम्मेदारी तय होनी चाहिए जिससे इस तरह कि लापरवाही होने पर उनके खिलाफ कार्रवाई हो सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here