गोंडा : दलित बेटियों पर हुए एसिड अटैक मामले में पुलिस की जांच में हुआ ये खुलासा…

investigation in the acid attack case
Gonda

गोंडा :। यूपी के गोंडा जिले में परसपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत पसका गाँव मे घर मे सो रही तीन दलित बेटियों पर एसिड अटैक के मामले में पुलिस की जांच में खुलासा हुआ है कि गाँव के शोहदे आशीष ने घटना को अंजाम दिया था। घायल बच्चियों की पूछ ताछ के बाद पता चला कि आशीष बड़ी बहन से बात करने के लिए दबाव बना रहा और जब युवती उससे बात नही किया तो कुछ विवाद हुआ था उसके बाद घर मे सो रही तीनो बहनों पर आशीष ने एसिड से अटैक कर फरार हो गया।

इस घटना के बाद तीनों बहनों का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है जिसमे बड़ी बहन 30 प्रतिसत एसिड से जल गई। तीनो बहने खतरे से बाहर है जिला अस्पताल में डॉक्टरों की टीम इलाज कर रही है। वहीं इस घटना के बाद घटनास्थल पर डीआईजी देवीपाटन,जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक सहित जिले के उच्च अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच कर जायजा लिया और जांच पड़ताल किया।

वही जब इस बारे में एसपी शैलेश कुमार पाण्डेय से बात की गई तो उन्होंने बताया कि पास के गांव में बीती रात तीन सगी बहनों पर केमिकल अटैक किया गया था, इस मामले में परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई में जुटी थी। पुलिस की जांच में खुलासा हुआ है कि,”यह अटैक आशीष नाम के युवक ने किया था वह लड़कियों से बात करने के लिए दबाव बना रहा था और जिसके लिए विवाद भी से पहले हुआ था कल रात में वह घर पर पहुंचा और ऐसी फेंक कर फरार हो गया आशीष की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीमें लगाई गई हैं जल्द से जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी की जाएगी।”

वही एसिड अटैक मामले में जिलाधिकारी डॉ.नितिन बंसल से बात की गई तो उन्होंने बताया कि परसपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत कल तीन बहनों पर एसिड अटैक हुआ था,जिनका इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है डॉक्टरों की निगरानी में उनका इलाज चल रहा है जो अभी खतरे से बाहर बताई जा रही है। जिसमें बड़ी बहन ज्यादा जली है लेकिन वह भी खतरे से बाहर है। इस घटना के बाद पीड़ित परिवार को सरकार द्वारा रानी लक्ष्मीबाई व महिला एवं बल सुरक्षा कोष से सहायता राशि मुहैया कराई जाएगी,वहीं पुलिस इस मामले में जल्द से जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी करेगी।

रिपोर्ट:-अतुल कुमार यादव…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here