कोंग्रेस के बागी विधयाक,सांसद और वरिष्ठ नेताओं की प्रेस कॉन्फ्रेंस

Google

राजधानी लखनऊ में आज कोंग्रेस के बागी विधयाक, सांसद और कई वरिष्ठ नेता लखनऊ प्रेस क्लब में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान विधायक ,सांसद और कई वरिष्ठ नेता इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद रहे सदस्यों को प्रियंका गाँधी के आदेशों के खिलाफ जाने पर निष्कासित किया गया था जिसपर सभी ने अपना मत रखा और कहा  की  इसके लिए 7 दिनों की नोटिस जारी की जाती है लेकिन हम लोगो को 24 घंटे का समय मिला ये असंवैधानिक है और पार्टी के आंतरिक लोकतंत्र का गला घोटने वाला है।

जिनके ऊपर संगीन मुकदमे चल रहे हो और जिनका आपराधिक इतिहास रहा हो वो आज हमें कोंग्रेस से  निकलने को कह रहे है।

विनोद चौधरी पूर्व MLA 

ज़मीन स्तर के कार्यकर्ता है हम लोग, सोनिया गाँधी को इसको में संज्ञान लेना चाहिए असली कांग्रेस निकल कर वर्तमानं कांग्रेस के सामने खड़ी होंगी। टिकट ब्लैक करने वाले आज अध्यक्ष बने है।

भाजपा का असली चरित्र उजागर हो चुका है-अजय कुमार लल्लू

संजीव सिंह ने कहा की हम सोनिया जी से अपील करते है की आम कोंग्रेसियो के मन की बात सुने वरना सडक पर उतरकर कांग्रेस के लिए संघर्ष करेंगे।

अनुशासन समिति सिर्फ रेकमंड कर सकती है। प्रदेश के तमाम कांग्रेसी आज नाराज है, बुरे दिनों में हम कोंग्रेस के साथ रहे ,जितने लोग है सब छात्र राजनीत से है, हमने कभी नहीं कहा की नौजवानो को आगे नहीं आना चाहिए।

हम यूथ राजनीत का विरोध कैसे कर सकते है हमने कभी प्रियंका गाँधी की नौजवान टीम का विरोध नहीं किया सच कहना बगावत है तो समझो हम बागी है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में सचदेव त्रिपाठी बोले की हमें मीडिया के माध्यम से ये पता चला की हम लोगो को पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित किया गया।

7 दिनों की नोटिस जारी की जाती है , हम लोगो को 24 घंटे का समय मिला ये असंवैधानिक है।  पार्टी के आंतरिक लोकतंत्र का गला घोटने वाला है। हमने कभी प्रियंका गाँधी और उनकी टीम का विरोध नहीं किया। PCC,  AICC के सदस्यों पर, पूर्व सांसद कार्यवाही नहीं कर सकती,अखबार के माध्यम से निकाल दिया गया ।