एसपी ऑफिस के सामने रेप पीड़िता ने किया आत्मदाह

google

उत्तर प्रदेश में रेप जैसी घटनाएं दिन पे दिन बढ़ती जा रही है जिसके चलते ही एक और नया मामला उन्नाव का सामने आया है। सूत्रों के मुताबिक न्याय के लिए काफी समय से भटक रही रेप पीड़िता ने आज एसपी ऑफिस के बाहर आत्मदाह कर लिया। आपको बता दे की रेप पीड़िता हसनगंज की रहने वाली हैं। हालाँकि पुलिस ने आग बुझाने के बाद युवती को अस्पताल में भर्ती कराया है।

मायावती ने छात्रों द्वारा किये गए CAB विरोध प्रदर्शन को लेकर किया ट्वीट

अभी तक के उन्नाव रेप केस

गौरतलब है की अभी दो हफ्ते पहले ही उन्नाव में गैंगरेप पीड़िता को जलाकर मारने का मामला सामने आ चुका है। उस मामले की जांच एसआईटी कर रही है। गैंगरेप पीड़िता को जलाने के मामले में पांच आरोपी गिरफ्तार भी हुए हैं। जिनके खिलाफ जल्द ही चार्जशीट दाखिला हो सकती है। इससे पहले उन्नाव में ही बीजेपी के निष्कासित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर भी युवती से रेप का आरोप लगा था। उन पर आरोप तय भी हो चुका है और आज उस केस में कोर्ट की तरफ से फैसला भी आने वाला है।

पीड़िता की हालत गंभीर

दरअसल उन्नाव में एक बार फिर एक रेप पीड़िता द्वारा आग लगाने के मामले ने प्रशासन को हिलाकर रख दिया है। मौके पर मौजूद एसपी ने बताया है की पीड़िता अस्पताल में भर्ती है। युवती की हालत गंभीर है और जिला अस्पताल से कानपुर रेफर कर दिया गया है। बता दें कि पिछले दिनों ही इस तरह के मामलों में गंभीरता बरतते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने पुलिस को इन अपराधों पर अंकुश के लिए सख्त निर्देश दिए थे।

न्याय न मिलने पर लगाई आग

उन्नाओ एसपी विक्रांत वीर ने बताया की महिला ने कुछ दिन पहले हसनगंज थाने में आईपीसी की धारा 376 का मुकदमा दर्ज कराया था। दरअसल जिस युवक के खिलाफ उसने मुकदमा दर्ज कराया था।10 साल से दोनों के बीच संबंध थे।अब आरोपी शादी से इनकार कर रहा है। इसके बाद ही महिला ने यह मुकदमा दर्ज कराया है। आग लगाने के कारणों के बारे में अभी महिला ज्यादा कुछ बता नहीं पाई हैं। अभी उनकी स्थिति को देखते हुए कानपुर रेफर किया गया है।