बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने अशोक गहलोत पर साधा निशाना, फोन टेपिंग पर बीजेपी ने भी उठाए सवाल

Rajasthan political crisis
image source - google

Rajasthan में राजनीतिक गतिरोध जारी है। congress बीजेपी पर सरकार गिराने का आरोप लगा रही है। वहीं BJP इसे कांग्रेस की घर की लड़ाई बता रही है। इस बीच उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और BSP Supremo Mayawati ने ट्वीट कर बड़ा बयान दिया है।

बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने कहा कि ‘जैसा की विधित है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने पहले दल बदल कानून का खुला उल्लंघन व बीएसपी के साथ लगातार दूसरी बार बगावत करके पार्टी के विधायकों को कांग्रेस में शामिल कराया और अब जग जाहिर तौर पर फोन टेप कराकर उन्होंने एक और गैरकानूनी और असंवैधानिक काम किया है।

इस प्रकार राजस्थान में लगातार जारी राजनीतिक गतिरोध, आपसी उठापटक व सरकारी अस्थिरता के हालात का वहां के राज्यपाल को प्रभावी संज्ञान लेकर राजस्थान में राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश करनी चाहिए। ताकि राज्य में लोकतंत्र की और ज्यादा दुर्दशा ना हो।’

फोन टैपिंग पर बीजेपी ने भी उठाए सवाल

वहीं आज बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि राजस्थान में कांग्रेस की यह घर की लड़ाई है जो आप सड़क पर आ चुकी हैं। इसके साथ ही संबित पात्रा ने फोन टेप किए जाने को लेकर सवाल पूछा कि क्या कांग्रेस कानून को ताक पर रखकर हथकंडे अपनाए जा रही हैं? क्या राजस्थान में प्रत्येक व्यक्ति चाहे वह किसी भी पार्टी से हो उसका फोन टैपिंग किया जा रहा है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here