जानिए क्या है CET और अब किस तरह होगी Railway, Banking और SSC की परीक्षा

railway banking ssc exam cet
image source - google

केंद्र सरकार ने Railway, Banking और SSC के लिए होने वाली परीक्षाओं की प्रक्रिया में बड़ा बदलाव किया है। अब इन तीनों विभागों के लिए जो छात्र परीक्षा देंगे उनको अलग-अलग परीक्षाएं देने की जगह अब सिर्फ एक Common Eligibility Test देना होगा। इस बड़े बदलाव के साथ युवाओं की सरकारी नौकरी पाने की राह भी अब बहुत आसान हो जाएगी।

पहले Railway, Banking और SSC के लिए 3 परीक्षा देनी होती थी। पहले प्रारंभिक परीक्षा फिर मुख्य परीक्षा और आखिर में इंटरव्यू। इसके साथ ही इनके अलग-अलग आवेदन पत्र, परीक्षा केंद्र होते थे। इन तीनों चरणों की परीक्षाओं को पास करने के बाद ही युवाओं को नौकरी मिलती थी। लेकिन अब इस प्रक्रिया को पूरी तरह से बदल दिया गया है।

अब तीन परीक्षाओं की जगह एक Common Eligibility Test होगा और एक आवेदन पत्र व एक ही परीक्षा केंद्र होगा। इसके लिए कल कैबिनेट की बैठक में नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी के गठन को मंजूरी दे दी है। अब यही एजेंसी इन तीनों विभागों में होने वाली परीक्षाओं का आयोजन करेगी।

क्या बाकी परीक्षाएं भी होंगी इसी तरह

बता दें अभी सरकार ने सिर्फ रेलवे, एसएससी और बैंकिंग की परीक्षाओं के लिए ही CET नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी के तहत कराने का फैसला किया है। समय के साथ-साथ सभी सरकारी नौकरियों के लिए होने वाली परीक्षाओं की प्रक्रिया को कॉमन किया जाएगा। जिसके बाद सरकारी नौकरी पाने की एक लंबी-चौड़ी प्रक्रिया समाप्त हो जाएगी और युवाओं को लाभ होगा।

किस तरह होंगी CET की परीक्षा

Common Eligibility Test का आयोजन ऑनलाइन कराया जाएगा। की परीक्षा 1 साल में दो बार होगी और हिंदी इंग्लिश के साथ-साथ 10 अन्य भाषाओं में प्रश्न पत्र को हल करने का भी विकल्प छात्रों को होगा। रिजल्ट जल्द आ जाएगा और इनमें हासिल किए गए नंबर की वैधता 3 सालों तक रहेगी। यह टेस्ट पास करने के बाद छात्र Railway, Banking,SSC की मुख्य परीक्षा दे सकते हैं और इसके बाद इंटरव्यू। इसे पास करने के बाद छात्रों के हाथ में सरकारी नौकरी होगी।

क्या Russia ने सच में बना ली Corona वैक्सीन?, कई देशों ने मांगे करोड़ों डोज लेकिन डब्ल्यूएचओ ने..

CET की परीक्षा 10वीं और 12वीं पास छात्रों दे सकते हैं। नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी 1000 परीक्षा केंद्रों पर CET का आयोजन कराएगी। लगभग हर जिले में एक परीक्षा केंद्र होगा। खासकर वे जिले जिन को विकसित करने की सरकार की योजना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here