पंजाब की राजनीतिक गलियारों में लगातार जारी है हलचल, हरीश रावत ने कहा…

punjab congress in-charge harish rawat
image source - google

पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत से आज 4 वरिष्ठ मंत्रीगण और 3 विधायक मिले और कई मुद्दों को लेकर चर्चा की। इसके बाद हरीश रावत ने कहा कि हमारे 4 वरिष्ठ मंत्रीगण व 3 विधायक यहां आए, उन्होंने अपनी चिंता बताई। वो पार्टी की जीत की संभावनाओं को लेकर चिंतित हैं। उन्होंने कहा कि हमारा विरोध किसी व्यक्ति से नहीं है। हम चाहते हैं कि चुनाव में हम एक स्पष्ट रोडमैप के साथ जाएं।

अगर किसी को किसी से कोई नाराज़गी है तो नाराज़गी कांग्रेस के रास्ते में नहीं आनी चाहिए। कांग्रेस के लिए बहुत आवश्यक है कि वो पंजाब में मिलकर चुनाव लड़े। मंत्रीगणों ने, विधायकों ने मुझे आश्वासन दिया कि उनका पार्टी में और पार्टी हाईकमान में पूरा विश्वास है।

ज़िला और राज्य प्रशासन की कार्य पद्धति को लेकर उनकी कुछ शिकायतें भी हैं। कांग्रेस का कोई विधायक अगर अपने को असुरक्षित समझता है और समझता है कि प्रशासन उसको हराने की कोशिश कर सकता है या उसके ख़िलाफ काम कर सकता है तो ये बहुत चिंताजनक बात है।

Afghanistan से लौटे 2 भाईयों ने बयां की तालिबान के कहर की कहानी

वहीँ हरीश रावत से मिलने आये पंजाब कैबिनेट मंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि हम पंजाब के लोगों और पंजाब के विधायकों की भावनाओं को लेकर हरीश रावत से मिलने आए थे। वे हमारी बातों से संतुष्ट हैं। हम पंजाब के वे मसले जो हल नहीं हो रहे उन्हें लेकर यहां आए हैं। इन्होंने हमारी बात सुनकर हाईकमान से बात करने की बात की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here