पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी सेप्टिक शॉक में, जानें क्या होता है सेप्टिक शॉक

pranab mukherjee health update
image source - google

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को 10 अगस्त को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां पर उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। यहाँ पर जाँच में पता चला की उनके दिमाग में एक थक्का है। जिसे सर्जरी कर निकाला गया। इसके बाद प्रणब मुखर्जी की हालत में कुछ सुधार हुआ था।

लेकिन बाद में पता चला की उनके फेफड़ों में इंफेक्शन है। जिसकी वजह से वो सेप्टिक शॉक में हैं। आज R&R Hospital की ओर से जानकारी दी गयी की पिछले कई दिनों से उनकी हालत में कोई सुधार नहीं हुआ है और अभी भी प्रणब मुखर्जी वेंटिलेटर सपोर्ट पर है।

क्या है सेप्टिक शॉक

जो व्यक्ति इस स्थिति में होता है उसका रक्तचाप काम नहीं करता। शरीर में सूजन आ जाती है जिसकी वजह से रक्त के थक्के जमने लगते है और शरीरी के महत्वपूर्ण अंगो तक ऑक्सीजन नहीं पहुँच पाती। जब शरीर में सूजन बहुत कम रक्तदाब के साथ होती है तो उसे सेप्टिक शॉक कहते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here