गरीबों की मदद कर लोगो के लिए भगवान बन गई पुलिस

lock down
google

इस समय पूरी दुनिया में कोरोना का प्रकोप से जूझ रही है। कोरोना के बढ़ते प्रकोप के कारण सरकार ने पूरे पुरे देश को ही लॉक डाउन करवा दिया है। इसी के चलते सभी आम जनता से लेकर बड़े बड़े स्टार्स भी अपने अपने घरों में कैद है। इस समय देश पूरी तरह से लॉकडाउन है और कोरोना वायरस से निपटने के लिए लड़ रह है।

तेजी फैलते संक्रमण को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में 21 दिन के लॉकडाउन का एलना किया है। लोगों को घरों में रहने के लिए कहा गया है। पुलिस को निर्देश है कि वो इस बंदी का सख्ती से पालन करवाए। इस मुश्किल समय में लोग जरूरतमंदों की मदद के लिए आगे आ रहे हैं। पुलिस लोगों खाना खिला रही है। गरीबों तक जरूरत की चीजें पहुंचा रही है, ताकि उन्हें इस मुश्किल घड़ी में भी दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ा। लोगों को रोजमर्रा के समान के लिए भटकना ना पड़े इसके लिए प्रशासन मुस्तैद है।

पंजाब पुलिस और उत्तर प्रदेश पुलिस के जवान सड़कों पर मौजूद हैं और लोगों की मदद कर रहे हैं। अपने इस कार्य से लोगों को संदेश दे रहे हैं कि आप घरों में ही रहिए, यह समय मुश्किल जरूर है, लेकिन हम आपके साथ हैं। पुलिस के जवान घरों तक जरूरत की वस्तुएं पहुंचा रहे हैं और लोगों की हर संभव मदद का प्रयास कर रहे हैं।

पंजाब के तरनतारन एसएसपी ध्रुव दाहिया खुद लोगों की सेवा में जुटे हैं और यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि समाज में कोई दहशत का माहौल पैदा न हो। प्रशासन लगातार सरकार की सलाह का पालन करने और सामाजिक दूरी बनाए रखने की अपील कर रही है। ऐसे ही अमृतसर की ग्रमीण पुलिस कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई के समय लोगों के बीच जरूरत की चीजें पहुंचा रही है।

यूपी पुलिस भी मुस्तैद है। नोएडा में पुलिस को गर्भवती महिला का पता चलने वो तुरंत पहुंची। स्थानीय चौकी इंचार्ज ने गर्भवती महिला को हाथों को सेनेटाइज कराकर अपने वाहन से प्रसव हेतु ग्राम झुंडपुरा से सेक्टर 24 आस्पताल में भर्ती कराया।बरेली में एसएसपी के निर्देश पर थाना कोतवाली द्वारा लॉकडाउन में जिला अस्पताल में जरूरतमंद लोगों को खाद्य सामग्री व विभिन्न स्थानों पर गरीब व असहाय लोगों को राशन सामग्री वितरित की गई।

COVID-19: चीन पर 200 अरब डॉलर का हुआ केस

सड़क किनारे रहने वाले गरीब लोगों को लॉकडाउन के दौरान कमाने के लिए कोई रोजगार नहीं है। वो भूखे सड़कों के किनारे बैठे हैं। ऐसे लोगों की मदद के लिए आगरा के जगदीशपुरा थाना क्षेत्र में पुलिस ने सड़क किनारे बैठे लोगों में खाद्य सामग्री वितरित की। इस कठिन समय में और भी लोग मदद के लिए सामने आ रहे हैं। बीसीसीआई प्रमुख सौरव गांगुली ने 50 लाख का चावल गरीबों के लिए दान किया है।

गोपाल मंदिर ट्रस्ट की ओर से कहा गया है कि भोजन बनाने के लिए, स्वास्थ्य शिविर लगाने के लिए या किसी और परमार्थिक कार्य के लिए अगर हमारा राठौर मांगलिक भवन चाहिये, तो वह नि:शुल्क उपलब्ध है। एक तरफ जहां देश घरों में बंद होकर इस महामारी को हराने के लिए हर संभव प्रयास कर रहा है। वहीं, दूसरी ओर देश के अलग-अलग हिस्सों और प्रशासन की ओर से जरूरतमंदों की मदद के लिए बढ़ते हाथ ये संदेश दे रहे हैं कि हम इस मुश्किल समय पर भी विजय प्राप्त कर लेंगे।

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here