पीएम ने ‘प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना’ के लाभार्थियों से किया संवाद, जानें खास बातें

pm svanidhi yojana

आज मंगलवार को पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना लाभार्थियों से संवाद किया। इस मौके पर यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ भी उपस्थित रहे। सीएम योगी ने कहा की आज प्रदेश के 651 स्थानीय निकायों की संस्थाओं में प्रदेश के 2 लाख 74 हजार पटरी व्यवसायी आपके मार्गदर्शन और प्रेरणा से इस योजना के तहत ऋण वितरण सुविधा से कोरोना काल में अपने त्योहार और पर्व सफलतापूर्वक मना पाएंगे।

पीएम के सम्बोधन की खास बातें

पीएम मोदी ने कहा की मैं ‘प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना’ के लाभार्थियों से बात कर रहा था तो मैंने ये अनुभव किया कि सभी को एक खुशी भी है,आश्चर्य भी है। पहले नौकरी वालों को लोन लेने के लिए बैंकों के चक्कर लगाने होते थे, गरीब आदमी बैंक के भीतर जाने का भी नहीं सोच सकता था। लेकिन आज बैंक खुद चलकर आ रहा है।

पीएम मोदी ने इसका श्रेय बैंक कर्मियों को देते हुए कहा की हमारे रेहड़ी-पटरी वालों की मेहनत से देश आगे बढ़ता है। ये लोग आज सरकार का धन्यवाद दे रहे हैं पर मैं इसका श्रेय सबसे पहले बैंक कर्मियों की मेहनत को देता हूं। बैंक कर्मियों की सेवा के बिना ये कार्य नहीं हो सकता था।

आज का दिन आत्मनिर्भर भारत के लिए महत्वपूर्ण दिन है। कठिन से कठिन परिस्थितियों का मुकाबला ये देश कैसे करता है, आज का दिन इसका साक्षी है। मेरे गरीब भाई-बहनों को कैसे कम से कम तकलीफ उठानी पड़े, कैसे गरीब इस मुसीबत से उभरे, सरकार के सभी प्रयासों के केंद्र में यही चिंता थी। इसी सोच के साथ देश ने 1 लाख 70 हजार करोड़ रुपए की गरीब कल्याण योजना शुरू की है।

प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना में ऋण (Loan) आसानी से उपलब्ध है। जो भी समय से इसे अदा करेगा उसे ब्याज में 7% की छूट मिलेगी। अगर आप डिजिटल लेन-देन करेंगे तो एक महीने में 100 रुपये तक कैशबैक के तौर पर वापस पैसे आपके खाते में जमा होंगे।

10 हजार रूपए तक का लोन आसानी से

प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के अंतर्गत पटरी व्यवसायी को 10000 रूपए तक का लोन आसानी से मिलता है। ये पैसा खाते में 3 बार में आएगा। जो लोग इस योजना का लाभ उठाना चाहते है, वे प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर या पास के बैंक में जाकर रजिस्ट्रेशन करा सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here