वेस्टर्न डीएफसी के नए रेवाड़ी-मदार रेलखंड की ये है विशेषताएं

PM Modi inaugurate WDFC
image source - google

आज गुरुवार को PM नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के 306 किलोमाटर लंबे रेवाड़ी-मदार खंड का लोकार्पण किया। पीएम ने हरी झंडी दिखाकर हरियाणा के न्यू अटेली से राजस्थान के न्यू किशनगढ़ के लिए पहली डबल स्टैक कंटेनर मालगाड़ी रवाना की।

ये होंगे लाभ

1. इस रेलगाड़ी की लम्बाई डेढ़ किलोमीटर है और ये डबल स्टैक कंटेनर ट्रेन है। जो लगभग 100 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ़्तार से दौड़ेगी।

2. भारत में पहली बार 25 टन एक्सल लोड के साथ हैवी हाल ट्रेन संचालन की परिकल्पना की

3. डबल लाइन इलेक्ट्रिक ट्रक पर तेज़ गति से ज्यादा सामान धुलाई हो पायेगी वो भी काम समय में

4. गुजरात स्थित कांडला, पीपावाव, मुंध्रा और दाहेज के पश्चिम बंदरगाहों के साथ निर्बंध संपर्क सुनिश्चित करेगा

5. समय पर डिलीवरी होगी और बंदरगाहों से कार्गो की तेज़ी से निकासी होगी।

6. भिवाड़ी, धारूहेड़ा, रेवाड़ी-मानेसर, अजमेर आदि के अवसरों की क्षेत्र और किशनगढ़ के ग्रेनाइट मार्बल उद्योग तक बेहतर रेल पहुंचेगी।

7. किसान रेल की प्यास पर पहुंचे क्षेत्र के किसानों को लाभ होगा और उनकी आय में वृद्धि होगी।

8. नांगल चौधरी में कठुवास, फुलेरा और न्यू रेवाड़ी और एकीकृत मल्टीमॉडल लॉजिस्टिक हब में निर्यात-आयात माल ढुलाई को बढ़ावा मिलेगा।

9. क्षेत्र के उद्योगों को काफी लाभ पहुंचाने के लिए समय पर विवरण और पर्याप्त क्षमता के आश्वासन के साथ सस्ती रेल परिवहन तक पहुंच सुनिश्चित होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here