कजाकिस्तान में कैसे हुई विमान दुर्घटना

google

अभी अभी कजाकिस्तान से एक दिलदहला देने वाली खबर सामने आई है। जहाँ एक विमान दुर्घटना में एक दर्जन से ज्यादा लोगो की मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक कजाकिस्तान के अल्माती शहर में एक विमान क्रैश हो गया है। बताया जा रहा है की अल्माटी एयरपोर्ट से टेक ऑफ के तुरंत बाद ये विमान हादसे का शिकार हो गया।

एक दर्जन से ज्यादा लोगो की हुई मौत

सूत्रों के मुताबिक इस दुर्घटना में 15 लोगों की मौत हो गई है और कम से कम 66 लोग घायल हुए हैं। इनमें से 50 को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस विमान में 100 लोग सवार थे। विमान कजाकिस्तान के बड़े शहर अल्माती से देश की राजधानी नूरसुल्तान जा रहा था। सूत्रों की माने तो उड़ान भरने के तुरंत बाद बेक एयर का विमान कंक्रीट के बड़े और 2 मंजिला भवन से टकरा गया था।

विमान का संतुलन बिगड़ने से हुआ हादसा

एयरपोर्ट के अधिकारियों ने बताया कि सुबह 7: 22 मिनट पर विमान ने अपना संतुलन खो दिया। अल्माती एयरपोर्ट ने अपने फेसबुक पेज पर एक बयान में कहा कि कोई आग नहीं लगी थी। हादसे के तुरंत बाद राहत कार्य शुरु हो गया। दुर्घटना के तुरंत बाद बर्फ से ढके दुर्घटना स्थल पर करीब 1,000 लोग राहत एवं बचाव कार्य में लगे हुए है। घटनास्थल पर आपातकालीन सेवाएं मौजूद हैं।

उड़ान भरते ही हुआ हादसा

दरअसल विमान कजाकिस्तान के बड़े शहर अल्माती से देश की राजधानी नूरसुल्तान जा रहा था। मगर उड़ान भरते ही यह इमारत से टकरा गया। जिसके कारण यह हादसा हुआ। अल्माटी हवाई अड्डे के अधिकारी का कहना है कि विमान संख्या जेड92100 में 100 यात्रियों सहित पांच क्रू सदस्य सवार थे। विमान अपनी निर्धारित ऊंचाई तक नहीं पहुंच सका और कंक्रीट के फेंस से टकरा गया।

हिंसा को लेकर 327 FIR दर्ज व 1113 गिरफ्तार, 5558 पर कार्रवाई

विमान के दो हिस्से दो जगह में मिले

फुटेज में विमान का मुख्य हिस्सा टूटकर एक मकान से टकराया हुआ जबकि पिछला हिस्सा एयरपोर्ट के पास एक खेत में पड़ा हुआ दिख रहा है। विमान की पहचान मध्यम आकार के दो टर्बोफैन वाले जेट एयरलाइनर फोक्कर-100 के रूप में हुई है। देश के अधिकारियों ने बताया कि बेक एयर की सभी उड़ानों और कजाकिस्तान में फोक्कर-100 विमानों की उड़ान पर जांच पूरी होने तक रोक लगा दी गई है।

हादसे की जाँच के लिए सरकारी आयोग का किया गया गठन

खबर के अनुसार कजाकिस्तान के राष्ट्रपति कासिम-जोमार्त तोकायेव ने पीड़ित परिवारों को अनुगह राशि देने की बात कही है। उन्होंने ट्वीट किया कि हादसे के लिए जिम्मेदार व्यक्ति को कानून के मुताबिक कड़ी सजा दी जाएगी। तोकायेव ने कहा कि हादसा किन परिस्थितियों में हुआ। इसकी जांच करने के लिए एक सरकारी आयोग का गठन किया गया है।