भारत-नेपाल सीमा विवाद के बहाने पाकिस्तान ने अलापा कश्मीर का राग

Pakistan PM Imran Khan said on Indo-Nepal border dispute
image source - google

इन दिनों भारत नेपाल के बीच सीमा को लेकर विवाद चल रहा है और इसका फायदा उठाने के लिए अब पाकिस्तान भी कूद पड़ा है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि हिंदुत्व सुप्रीमेसिस्ट मोदी सरकार अहंकार से पूर्ण विस्तार वादी नीतियों के साथ पड़ोसी देशों के लिए खतरा बन गया है।

बांग्लादेश को सीएए कानून के जरिए और नेपाल,चीन के लिए सीमा विवाद से भारत खतरा पैदा कर रहा है और भारत यह सब कश्मीर पर अवैध कब्जा करने के बाद कर रहा है। वे पाकिस्तान के कश्मीर पर अपना दावा करते रहे हैं। मोदी सरकार अल्पसंख्यकों के लिए ही नहीं बल्कि क्षेत्रीय शांति के लिए भी बहुत बड़ा खतरा है।

क्या है पूरा मामला

दरअसल नेपाल लिम्पियाधुरा और लिपुलेख काला पानी पर अपना दावा पेश कर रहा है। इसको लेकर हाल ही में नेपाल में नया मैप भी जारी किया था। जिसमें इनको नेपाल ने अपना देश का भाग बताया था। जिस पर भारत ने आपत्ति जताई और 8 मई को भारत ने लिपुलेख से होकर गुजरने वाली कैलाश मानसरोवर लिंक रोड का उद्घाटन किया था। जिस पर नेपाल ने आपत्ति जताई थी। इसी विवाद में अब पाकिस्तान कूद पड़ा है और कश्मीर का रोना रो रहा है।

भारत-चीन में भी तनाव

इसके साथ ही भारत का इस समय चीन के साथ भी तनाव बढ़ा है। पिछले कुछ दिनों से चीनी सैनिक सीमा पर ज्यादा हरकतें कर रहे हैं। कभी हेलीकॉप्टर भारतीय सीमा प्रवेश करने की कोशिश करते हैं तो कभी चीनी सैनिक। इस दौरान कई बार दोनों सेनाओं में हाथापाई भी हुई है। इसी वजह से अब भारत सीमा पर सैनिकों की संख्या बढ़ाने जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here