कानपुर : भारतीय रेल को प्राइवेट हाथों में दिये जाने का हुआ विरोध…

Indian Railways being given in private
Kanpur

कानपुर:। भारत सरकार द्वारा भारतीय रेल को प्राइवेट हाथों में दिये जाने के विरोध में रेलवे कर्मचारियों ने विरोध प्रदर्शन किया। कर्मचारी संघ के महामंत्री आरपी सिंह के निर्देश पर रेल बचाओ, भारत देश बचाओ के तहत हुआ विरोध प्रदर्शन।

भारत सरकार के कर्मचारी विरोधी नीतियों एवं निजीकरण के विरोध में NFIR के आहवाहन और नार्थ सेंट्रल रेलवे कर्मचारी संघ के महामंत्री आरपी सिंह के निर्देश पर रेल बचाओ, भारत देश बचाओ के तहत पुराने रेलवे स्टेशन पर एनसीआरईएस द्वारा विरोध दर्ज करते हुए प्रदर्शन किया।

वहीँ मीडिया से बात करते हुए प्रयागराज मण्डल अध्यक्ष मान सिंह का कहना है कि कर्मचारी हित मे यथाशीघ्र बहाल करने की मांग की जिसमे उन्होंने कहा कि डीए रोकने का आदेश रद्द करो,पदों को सरेंडर करने और यात्री गाड़ियों का निजीकरण बंद करे,एनपीएस रद्द करो, आदि मांग करते हुए अपना विरोध दर्ज किया।

वही उनका कहना है कि अगर समय रहते रेलवे को प्राइवेट हाथों में न दिया जाए। अगर ऐसा नही हुआ तो आगे की रूपरेखा तैयार करते हुए हम लोग अपना विरोध दर्ज करेंगे।

रिपोर्ट:-दिवाकर श्रीवास्तवा…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here