गृह मंत्री: नागरिकता संशोधन अधिनियम को लेकर विपक्ष देश को कर रहा गुमराह

caa
image source - google

गृहमंत्री अमित शाह ने विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा की नागरिकता संशोधन अधिनियम CAA को लेकर पूरा विपक्ष देश के लोगों को गुमराह कर रहा है। मैं दोहराता हूं कि ‘किसी भी अल्पसंख्यक समुदाय के किसी भी व्यक्ति की नागरिकता छीनने का कोई सवाल ही नहीं है। विधेयक में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है। मैं कांग्रेस पार्टी से कहना चाहता हूं कि यह नेहरू-लियाकत समझौते का हिस्सा था, लेकिन 70 साल से लागू नहीं हुआ क्योंकि आप वोट बैंक बनाना चाहते थे। हमारी सरकार ने संधि को लागू किया है और लाखों और करोड़ों लोगों को नागरिकता दी है’।

पश्चिम बंगाल सीएम NRC,CAB को लेकर बोली ये बड़ी बात

आज झारखण्ड में पीएम मोदी ने भी कहा की ये बात पत्थर की लकीर है की CAA नागरिकता संशोधन कानून से भारत के किसी भी नागरिक की नागरिकता पर कोई असर नहीं पड़ेगा। चाहे वो हिन्दू हो या मुसलमान उसके ऊपर इस कानून का असर नहीं होगा। पीएम और गृह मंत्री संसद में पहले ही स्पष्ट कर चुके है की citizen Amendment Act में किसी की नागरिकता ली नहीं जा रही बल्कि नागरिकता दी जा रही है। इस Act में पाकिस्तान,बांग्लादेश,अफगानिस्तान से जो अल्पसंख्यक भारत आये थे,उनको नागरिकता दी जाएगी। इसके बाद भी विपक्ष देश में अफवाह फैला रहा है। पीएम मोदी ने तो आज रैली में कांग्रेस और उसके साथियों को चुनौती दे डाली की अगर हिम्मत है तो घोषणा करे की वो जम्मू कश्मीर से धारा 370 को वापस ले आएंगे,अगर हिम्मत है तो कांग्रेस बोले की वो सभी पाकिस्तानी नागरिकों को नागरिकता देगी और देश से ट्रिपल तलाक कानून को रद्द कर देगी।