डॉक्टर से फिरौती मांगने वाले को पुलिस ने इस तरह धरदबोचा

Police arrested ransom seeker
image source - google

आवारगी का शौख पूरा करने के लिए डॉक्टर से फोन पर अभियुक्त ने मांगी 50 लाख की रंगदारी। पैसा न देने पर अंजाम भुगतने की ढकी के बाद से दहशत के साये में था डॉक्टर का परिवार। लेकिन खीरी पुलिस अधीक्षक ने मामले का खुलासा करते हुए अभियुक्त को किया गिरफ्तार।

आपको बताते चलें शहर के मोहल्ला नौरंगाबाद में रहने वाले डॉ मानवेंद्र सिंह सेवा अस्पताल काशीनगर में प्रैक्टिस करते हैं, बीते दिनों डॉ के मोबाइल पर कॉल कर एक शख्श ने उनसे 50 लाख की रंगदारी मांगी थी और पैसे ना देने पर उनके पूरे परिवार को अंजाम भुगतने की भी धमकी दी थी।

जिसके बाद कार्यवाही करते हुए सदर कोतवाली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम ने मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच में जुटी और मोबाइल सर्विलांस के आधार पर लखीमपुर बस अड्डे से रंगदारी मांगने वाले गौरव भारती उर्फ लड्डू भैया नाम के अभियुक्त को गिरफ्तार लिया। अभियुक्त तिलक मार्ग डाली बाग में रहता है और सीतापुर का निवासी है।

फिरौती की रकम मांगे जाने के बाद सदर कोतवाली की क्राइम ब्रांच की टीम ने मोबाइल सर्विलांस के आधार पर अभियुक्त की तलाश और लोकेशन ले रही थी। उसी दौरान क्राइम ब्रांच की टीम को अभियुक्त की लोकेशन लखीमपुर रोडवेज बस स्टॉप की मिली और सदर कोतवाली की क्राइम ब्रांच की टीम ने अभियुक्त गौरव भारती उर्फ लड्डू भैया को हिरासत में ले लिया।

हिन्दू धर्म गुरु नरसिंघानन्द की गिरफ़्तारी के लिए एकत्रित हुए ये लोग

अभियुक्त 50 लाख रूपए की फिरौती मांगने के बाद किसी बड़ी अपराधिक घटना को अंजाम देने के लिए लखीमपुर आया था। लेकिन अभियुक्तों द्वारा किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने से पहले सदर कोतवाली की क्राइम ब्रांच टीम ने उसे धर दबोचा और अब जेल भेजने की तैयारी में जुट गई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here