Mukhtar Ansari को यूपी लाना नहीं था आसान, योगी सरकार ने किये…

mukhtar-ansari

माफिया डॉन Mukhtar Ansari को कल यूपी पुलिस पंजाब की रोपड़ जेल से लेकर निकली थी और आज सुबह मुख़्तार को लेकर यूपी पुलिस बाँदा जेल पहुंची। लेकिन इसके लिए सुरक्षा के इतने बड़े इंतजाम किये गए थे कि परिंदा भी पर न मार पाये।

Mukhtar Ansari को यूपी लाना नहीं था आसान

Mukhtar Ansari को पंजाब से यूपी लाने के लिए योगी सरकार ने अथक प्रयास किये। जब क़ानूनी दांवपेच काम नहीं आये तो उन्हें इसके लिए कोर्ट का दरवाजा भी खटखटाना पड़ा। क्योंकि मुख़्तार अंसारी खुद यूपी नहीं आना चाहता था। वो कभी मेडिकल का बहाना बना कर तो कभी कोई बहाना बनाकर पंजाब में ही रहना चाहता था।

एक रिपोर्ट के अनुसार यूपी से बाहर रहने के लिए ही पंजाब में केस दर्ज कराया गया था। मुहाली के एक व्यापारी ने 50 लाख कि फिरौती मांगने का आरोप मुख़्तार अंसारी पर लगाते हुए पंजाब में केस दर्ज कराया था। इसके बाद पंजाब पुलिस पूछताछ के लिए मुख़्तार अंसारी को ले गयी और तब से वो वहीँ पर था।

सुरक्षा के कड़े इंतजाम

मुख़्तार अंसारी को पंजाब से लाने के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गए थे। लगभग यूपी के 60 पुलिसकर्मी अंसारी को लेने के लिए पंजाब पहुंचे थे। इसके साथ ही UP STF को निगरानी के लिए तैनात किया गया था। यूपी लाते समय 10 से अधिक गाड़ियां और एक एम्बुलेंस जिसमे 5 डॉक्टर थे।

कैसे हुआ था सुकमा-बीजापुर बॉर्डर पर नक्सली हमला CRPF के महानिदेशक ने बताया

योगी सरकार की मुख़्तार गैंग पर कार्यवाही

अबतक Mukhtar Ansari और उसके गिरोह कि 192 करोड़ कि संपत्ति को यूपी सरकार ने जब्त कर लिया है। इसके साथ ही मुख़्तार के गैंग के 96 अपराधियों को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। 75 अपराधियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्यवाही हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here