मुरादाबाद: रामगंगा में उफान के चलते हाइवे पर जलभराव, मचा हड़कंप

    Moradabad News
    Moradabad News

    मुरादाबाद। यूपी के मुरादाबाद जिले में बहने वाली रामगंगा में उफान के चलते गांवों और खेतों से बाहर निकल कर नैनीताल हाइवे पर आया बाढ़ का पानी। पानी का बहाव तेज होने के कारण हाइवे से गुजरने वाले वाहनों को सता रहा है डर, हाइवे पर जाम की स्थिति बनी, सड़क कटी पेड़ भी गिरे। रामगंगा के किनारे के गांवों व बस्तियों में भी घुसा बाढ़ का पानी, पुलों पर से बाढ़ का नजारा देखने वाले लोगों की लगी भारी भीड़, सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस ने पुल पर मौजूद लोगों भगाया।

    पहाड़ों और मैदानी इलाकों में जलभराव

    पहाड़ों और मैदानी इलाकों में पिछले कई दिनों से लगातार हो रही बारिश के चलते मुरादाबाद की रामगंगा नदी में उफान आ गया है। रामगंगा के आसपास के गांवों और खेतों में रामगंगा की बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है। रामगंगा का जलस्तर लगातार बढ़ रहा जिससे पानी मुरादाबाद से लगभग पांच किलोमीटर दूर थाना सिविल लाइंस की सीमा के अंदर ही खेतों के अंदर से निकलकर बाढ़ का पानी तेज बहाव के साथ नैनीताल हाइवे पर आ गया जिससे वहां से गुजरने वाले वाहन स्वामियों हड़कंप मच गया। पानी के तेज बहाव को देखते हुए बड़ी सावधानी के साथ बड़ी धीमी गति से वाहनों को हाइवे से निकाला जा रहा है जिससे वहां बार बार जाम स्थिति बन रही है। पानी के तेज बहाव से पेड़ गिरे पड़े हैं, कई जगह से सड़क भी कट गई सुरक्षा की दृष्टि से वहां रेत से भरे बोर रख दिये गए हैं। पानी के बहाव से मील का पत्थर भी सड़क से उखड़कर बह गया जी नीचे पड़ा दिखाई दिया।

    स्थानीय निवासी डर के साये में

    Moradabad Newsहाइवे पर मौजूद पास के गांव के निवासी के अनुसार पिछले तीन दिनों से रामगंगा का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है उसी के चलते बाढ़ का पानी पहले जंगलों और खेतों में आया और आज नैनीताल और रामनगर को जाने वाले इस हाइवे पर आ गया पानी का बहाव बहुत तेज है जल स्तर अभी भी बढ़ ही रहा है। इस इलाके के लगभग एक दर्जन गांवों में बाढ़ का पानी पहुंच गया। यदि इसी तरह से पानी बढ़ता रहा तो बड़ी समस्या आ जायेगी। वैसे तो हमारे इन गांवों में बाढ़ हर साल ही आती है।

    अन्य गाँवों में फ़ैल रहा रामगंगा का पानी

    रामगंगा के दूसरे छोर पर बसने वाली बस्तियों में भी रामगंगा का बाढ़ का पानी घुस चुका है। घरों के आगे की फिट पानी है जिससे लोग घरों में ही रहने को मजबूर हैं। कारखानों के आगे खड़े जनरेटर डूबे खड़े हैं खाली पड़े प्लाटों में कई फिट बाढ़ का पानी घुसा हुआ है। किसी भी जरूरी काम के लिए पानी से होकर ही जाना पड़ रहा है।रामगंगा में आई बाढ़ से जहां बस्ती के लोगों और गांव के लोगों की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं शहर के लोग पूरे परिवार के साथ बाढ़ का नजारा देखने के लिए रामगंगा पर बने पुल पर पहुंचे तो सुरक्षा की दृष्टि से थाना पुलिस ने पुल से भीड़ को भगा दिया।

     

    रिपोर्ट- नासिर खान

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here