मिर्ज़ापुर 2 के छा गए यह 14 डायलॉग्स- फैंस ने कहा कब आ रहा हैं सीजन 3?

Mirzapur 2 best dialogues
Mirzapur 2 dialogues

फैंस के लम्बे समय से इंतज़ार करने के बाद अमेजन प्राइम पर फेमस वेब सीरीज Mirzapur 2 आखिरकार रिलीज़ हो गई| भौकाल से भरा ‘मिर्ज़ापुर’ का दूसरा सीज़न उसके रिलीज़ डेट से एक दिन पहले 22 अक्टूबर को ही रिलीज़ कर दिया गया| लोगो ने रात भर जग कर सीरीज को देखा और रिव्यु शेयर किया हैं, फैंस का कहना तो यह भी हैं कि कब आ रहा हैं सीजन 3? मिर्ज़ापुर इस बार 10 पार्ट के साथ OTT पर आया हैं और पिछली बार की तरह इस बार भी सीरीज के डायलॉग्स फैंस की ज़ुबान पर चढ़ गए हैं|

Mirzapur season 2 के विषय में डायरेक्टर गुरमीत सिंह का बड़ा खुलासा

मिर्ज़ापुर 2 को काफी अच्छा रिस्पांस मिला हैं, खास तौर पर कालीन भैया, मुन्ना भैया और गुड्डू भैया ने इस सीजन में भी अपना भौकाल टाइट कर रखा है। किरदारों के अलावा पिछले सीजन के डायलॉग्स लोगो को अभी भी याद हैं| उसी तरह ‘मिर्जापुर 2’ के इन डायलॉग्स ने सीरीज को और बेस्ट बनाया हैं|

Mirzapur 2 Dialogues

हिंदी फिलम के हीरो हैं हम, हमें कोई नहीं मार सकता, हम अमर हैं- मुन्ना भैया

आप हमको घर की ओनरशिप समझा रहे हैं, हमें शहर लेना हैं- गुड्डू पंडित

जब कुर्बानी देने का टाइम आए तो सिपाही की दी जाती है। राजा और राजकुमार जिंदा रहते हैं गद्दी पर बैठने के लिए।

शादीशुदा मर्द को अपनी स्त्री से भय न हो तो इसका मतलब है कि शादी में कुछ गड़बड़ है।

औरत चाहे चंबल की हो या पूर्वांचल की, जब गन उठाई है तो इसका मतलब है कि दिक्कत में है।

तकलीफ उनकी नहीं होती जो चले जाते हैं, तकलीफ उनकी होती हैं जो पीछे रह जाते हैं

ब्लैडर हमारा बर्स्ट कर जाएगा, पहले हमारा पेशाब इंतज़ाम कराईये

कुछ लोग बाहूबली पैदा होते हैं और कुछ को बनाना पड़ता है, इनको बाहुबली बनाएंगे।

शर्मा से क्या शर्माना, दिस इज ए कॉमन डिजीज।

दिखाते समय कॉन्फिडेंस हो तो पब्लिक पूछती नहीं कि फाइल में क्या है।

बातें ज्यादा हुई नहीं, बस आहट लेकर आ गए

गद्दी पर चाहे हम बैठें या मुन्ना नियम सेम होगा।…..और हम एक नया नियम ऐड कर रहे हैं, मिर्ज़ापुर की गद्दी पर बैठने वाला कभी भी नियम बदल सकता हैं 

साला सब जगह की शादी में डीजे चलता हैं, लेकिन हमारे यूपी की शादी में गोली चलती हैंबाउजी पगला गए हैं, उनका दिमाग उनके घुटने में हैं, और उनके घुटने काम करते नहीं हैं- मुन्ना भैया

हमारा उद्देश्य एक है..जान से मारेंगे.. क्योंकि मारेंगे तभी जी पाएंगे।

मिर्जापुर 2 को मिहिर देसाई और गुरमीत सिंह डायरेक्ट किया हैं और फरहान अख्तर और रितेश सिधवानी इस सीरीज के प्रोड्यूसर हैं। इस सीजन में पंकज त्रिपाठी, दिव्येंदु शर्मा, अली फजल, रसीका दुग्गल, श्वेता त्रिपाठी और हर्षिता गौर मुख्य भूमिका में नजर आ रहे हैं और कुछ नए किरदारों को जोड़ा गया हैं जिनकी भूमिका विजय वर्मा, ईशा तलवार और प्रियांशु पैनयुली निभा रहे हैं।

इन 6 कारणों से कर रहे हैं लोग बेसब्री से Mirzapur 2 का इंतज़ार

फिलहाल Mirzapur 2 को मिलेजुले रिव्यु मिले हैं, अगर ज्यादा लोगो को यह पसंद आया हैं तो कुछ ने कम रेटिंग भी दी हैं| हालाँकि अभी सभी ने सीरीज को नहीं देखा हैं| लेकिन अभी यह देखना बाकी हैं कि फैंस नए सीजन में कैसी प्रतिक्रिया देंगे। अभी वह सीजन के लिए पर्याप्त रूप से सहज और उत्साहित नज़र आ रहे हैं|

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here