CAA Protest : दिल्ली हिंसा को लेकर मायावती ने की उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग

    Mayawati demanded an inquiry in Delhi
    google

    देश की राजधानी दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) तथा भारतीय राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) के खिलाफ तीन दिनों से लगातार हिंसा जारी है जिसे देखते हुए उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री तथा बहुजन समाजवादी पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती को भी चिंता होने लगी है। उन्होंने ट्वीटर पर एक ट्वीट करते हुए दिल्ली की राज्य सरकार तथा केंद्र सरकार से सीएए तथा एनआरसी को लेकर भड़की हिंसा पर उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग किया है।

    CAA पर हिंसा के मद्देनज़र उत्तर पूर्वी दिल्ली से ग़ाज़ियाबाद के सभी रास्ते सील

    बसपा सुप्रीमों मायावती ने ट्वीट करके कहा है कि “दिल्ली के कुछ क्षेत्र में पिछले कुछ दिनों की हिंसा, उपद्रव व आगजनी की घटनाओं में भारी जान-माल की क्षति अति-दुःखद व अति-निन्दनीय। केन्द्र व दिल्ली सरकार इसे पूरी गंभीरता से लेकर इसकी उच्च स्तरीय जाँच कराए व सभी लापरवाही व दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करे, यह बीएसपी की माँग है”।

    राजधानी दिल्ली में तीन दिनों से चल रही हिंसा में कई लोगों कि जाने चली गई हैं और बहुत से लोग घायल हो गए हैं। दिल्ली में हालात को काबू करने के लिए एनएसए अजीत डोभाल को सौंपी गई है जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा कैबिनेट को अपनी रिपोर्ट पेश करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी इस मामले को लेकर आज कैबिनेट की बैठक करने वाले हैं। इस मीटिंग में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली के हालात को लेकर अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे। दिल्ली हाईकोर्ट ने एक वकील की याचिका पर मंगलवार की रात को सुनवाई किया और हिंसा के दौरान घायल हुए सभी लोगों को अल हिन्द अस्पताल से किसी अन्य बड़े अस्पताल में शिफ्ट करने का आदेश दिया है।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here