होली के रंग कांग्रेस की सरकार भंग,MP में ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ 22 विधायकों ने दिया इस्तीफा

jyotiraditya scindia
image source - google

मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार को बड़ा झटका लगा है। जब पूरा देश होली मना रहा था तब मध्यप्रदेश की राजनीति में बड़ा उलटफेर हो गया,जिसका किसी को अंदाजा भी नहीं था। कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पार्टी से स्तीफा दे दिया है। सिंधिया के साथ 22 और विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है। इतने इस्तीफों से मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार लड़खड़ा गयी है।

आज सुबह ही कांग्रेस के विधायकों को भोपाल से जयपुर लाया गया। विधायकों के लिए ब्यूना विस्ता रिजॉर्ट में 42 कमरों को बुक किया गया है। कांग्रेस का दावा है की हमारी सरकार को कुछ नहीं होगा। 16 मार्च को आप देखेंगे की विधायकों की संख्या सामान्य है। हम विधानसभा में अपनी बहुमत साबित कर देंगे।

मध्यप्रदेश की राजनीति का समीकरण

मध्यप्रदेश में 230 सीटें है जिसमे से 2 खली है। तो कुल सीटें होती है 128 । कांग्रेस से 22 विधायकों के इस्तीफे के बाद अब कमलनाथ के पास 92 विधायक है और इसमें से 4 लापता है। BJP के पास 105 विधायक है। यदि कांग्रेस के ये 22 विधायक BJP में शामिल हो जाते है तो मध्यप्रदेश में एक बार फिर BJP की सरकार बन सकती है।

Before After
Congress – MLA 114 Congress – MLA 92
BJP – MLA 107 2 Rebel, BJP – MLA 105
BSP – MLA 2 BSP – MLA 2
SP – 1 SP – 1
Non-Party – MLA 4 Non-Party – MLA 4
Vacant Seats – 2 Vacant Seats – 2
Majority Figure -116 Majority Figure -104

 

CAA व NRC पर हिंसा करने वालों के होर्डिंग्स लगाने के मामले में हाईकोर्ट नाराज़

ज्योतिरादित्य सिंधिया को दिए गए पद पार्टी ने गिनाये

एमपी कांग्रेस ने ट्वीट करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया को पिछले 17 सालों में दिए गए पदों को गिनाया और सवाल पूछा की इतने पद दिए जाने के बाद भी मोदी-शाह की शरण में क्यों?

सिंधिया जी की 18 साल की राजनीति में कांग्रेस ने :

– 17 साल सांसद बनाया
– 2 बार केंद्रीय मंत्री बनाया
– मुख्य सचेतक बनाया
– राष्ट्रीय महासचिव बनाया
– यूपी का प्रभारी बनाया
– कार्यसमिति सदस्य बनाया
– चुनाव अभियान प्रमुख बनाया
– 50+ टिकट, 9 मंत्री दिये

फिर भी मोदी-शाह की शरण में ?

ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ कितने MLA

कमलनाथ के बेटे नुकूल नाथ ने सिंधिया पर आरोप लगाया है की ‘सिंधिया साभिविधयकों को धोखे से अपने साथ लेकर गए है। एमपी में सरकार बच जाएगी।’ वहीँ इस बीच खबर ये भी आयी की ज्योतिरादित्य सिंधिया BJP में शामिल होंगे और सिंधिया के 22 में से 12 विधायक BJP में शामिल होने को तैयार नहीं है। यानि अब ये 12 विधायक कांग्रेस में वापस जा सकते है। अब देखना होगा की क्या मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बानी रहेगी या BJP अपनी सरकार फिर बनाने में कामयाब हो जाएगी।

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 + ten =