लखनऊ में हिंसा करने वाले 57 लोगों की संपत्ति होगी कुर्क,चौराहों पर लगेंगे नाम, पता के साथ फोटो

lucknow violence
image source - google

लखनऊ में नागरिकता कानून के विरोध के नाम पर हिंसा करने वाले 57 लोगों की पहचान पुलिस ने कर ली है और इनके पोस्टर जल्द ही जगह-जगह लगाए जायेंगे। इसके साथ ही इन सभी उपद्रवियों की संपत्ति को जब्त करके भरपाई की जाएगी। बता दें 19 दिसम्बर को उपद्रवियों ने काफी तोड़फोड़ और आगजनी की थी। इसके बाद इन उपद्रवियों की पहचान कर नोटिस थमा दिया गया था।

DM अभिषेक प्रकाश ने कहा होगी सख्त कार्यवाही

लखनऊ के डीएम अभिषेक प्रकाश ने कहा की जिन लोगों ने भी शहर में सार्वजनिक और निजी संपत्ति को नुकसान पहुँचाया था। उनकी पहचान कर ली गयी है। 4 थाना क्षेत्रों में 57 लोग दोषी पाए गए है। इनके द्वारा तोड़फोड़ और आगजनी की गयी,जिसकी वजह से 1 करोड़ 55 लाख 62 हजार 537 रूपए की संपत्ति का नुकसान हुआ है और इसकी वसूली इन उपद्रवियों से की जाएगी। इसके साथ ही अगर ये तय समय सीमा के अंदर इस राशि को स्वयं नहीं जमा करते है तो आरसी काटने के बाद इन उपद्रवियों की संपत्ति को कुर्क करके नुकसान की भरपाई की जाएगी। यही नहीं उपद्रवियों की फोटो नाम पता के साथ जगह-जगह लगायी जाएँगी जिससे लोगों के सामने ये सभी बेनकाब हो सके।

Swine Flu : मेरठ में 20 PAC जवानों समेत 81 लोग स्वाइन फ्लू पॉजिटिव

योगी सरकार की सख्ती की वजह से ही यूपी में दोबारा हिंसा नहीं हुई। क्योंकि दंगाईयों को पता है की वो किसी भी सूरत में बच नहीं सकते। अगर यही फार्मूला दिल्ली सरकार भी अपनाती तो शायद दिल्ली में करोड़ों रूपए की सार्वजनिक और निजी सम्पति राख होने से बच जाती और यही नहीं 42 लोगों की जान भी बच जाती पर अब जो हो गया उसे बदला नहीं जा सकता। लेकिन दंगाईयों के खिलाफ सख्त कदम उठाकर आगे होने वाली इस तरह की हिंसा को रोका जा सकता है।

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here