2021 में लखनऊ रहा प्रदेश का सबसे ठंडा जिला !

लखनऊ में पारा नीचे लुढ़का प्रदेश का सबसे ठंड जिला। ठंडी का मौसम है। आम तौर पर दिसंबर और जनवरी में ठण्ड अपने शवाब पर होती है।

ठंड ने नए साल में प्रदेश में जोरदार दस्तक दी है। प्रदेश के लगभग जिलों में न्यूनतम तापमान10 डिग्री सेल्सियस से कम रिकॉर्ड किया गया। बात करें राजधानी लखनऊ की तो साल के पहले दिन ही पारा जीरों के करीब पहुंच गया । मौसम विभाग के अनुसार लखनऊ में 1 जनवरी का न्यूनतम तापमान 0.5 डिग्री दर्ज  हुआ। गलन भरी ठंड से राजधानी में लोग ठिठुर रहे हैं।

आगरा, शाहजहांपुर में लोग दो डिग्री तापमान में जीवन गुजार रहे हैं ,जबकि मेरठ, बाराबंकी और सुल्तानपुर में न्यूनतम तापमान 3 डिग्री रिकॉर्ड किया गया,आंचलिक मौसम विज्ञान केन्द्र द्वारा जारी चेतावनी में पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पर गरच चमक के साथ बारिश की आशंका भी जताई है । मौसम विज्ञान निर्देशों के मुताबिक़ प्रदेश के कई इलाकों में गहरा कोहरा छाया रहेगा और गलनभरी वाली शीत लहर चलने के आसार हैं, गलन बरकरार रहेगी।

मौसम विज्ञानी जेपी गुप्ता के अनुसार, पहाड़ों पर हुई बर्फबारी और वेस्टर्न इन्फ्लुएंसेस केचलते ठंड के तेवर और तीखे होने के आसार हैं। यही कारण है कि लखनऊ में शुक्रवार को सीजन का सबसे न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया। लखनऊ का अधिकतम पारा 20.3 डिग्री रहा, जबकि न्यूनतम 0.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हालांकि शनिवार को अधिकतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 02 डिग्री सेल्सियस तक रहने के आसार हैं।

माइनस एक डिग्री तक पहुंच गया था राजधानी का तापमान
मौसम विभाग के पास अब तक के दर्ज आंकड़ों के मुताबिक 31, जनवरी 1964 को लखनऊ का न्यनूतम तापमान -1 डिग्री तक पहुंच चुका है। 2013 मेें न्यूनतम पारा जनवरी में -0.7 था, 2017 में 0.1 डिग्री दर्ज किया गया था।
2020 में 0.7 डिग्री की ठंड के बीच लोगों ने जोश और उत्साह के साथ नए साल का स्वागत किया था। जबकि 2019 में तापमान 5.2 डिग्री सेल्सियस था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here