Heim Foundation के फाउंडर अनुराग मिश्रा ने अपनी टीम के साथ प्रवासियों को भोजन वितरित किया

heim foundation help migrants

पूरे देश में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए लॉक डाउन किया गया है। लेकिन लॉक डाउन की वजह से गरीब मजदूर लोग बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। इनके सामने सबसे बड़ी समस्या रोजगार और खाने की है। इनकी परेशानी समझते हुए कई लोग मदद करने के लिए आगे आए हैं। इसी तरह ऐसे गरीब, बेरोजगार और भूखे लोगों की मदद करने के लिए Heim Foundation ने हाथ बढ़ाएं हैं।

Heim Foundation के फाउंडर डॉ अनुराग जो कि जर्मनी में डॉक्टर हैं। उन्होंने आज लखनऊ में कमता चौराहे पर अपनी टीम के साथ 300 से ज्यादा लोगों को भोजन कराया। स्पेशल बसों से वापस अपने घर जा रहे प्रवासियों को भोजन के पैकेट बांटे। इस दौरान कई प्रवासी भावुक हुए और उन्होंने डॉ अनुराग को धन्यवाद कहा।

बता दें इससे पहले भी Heim Foundation गरीब परिवारों और मजदूरों की मदद कर चुकी है। लॉक डॉन के दौरान अब तक डॉक्टर अनुराग और उनकी टीम ने हजारों जरूरतमंदों की मदद की है। उन्होंने हमसे बात करते हुए कहा कि वे आगे भी इस तरह के कार्य करते रहेंगे। प्रवासी और गरीब परिवारों की मदद के लिए लॉक डाउन के इस कठिन समय में Heim Foundation के फाउंडर डॉ अनुराग के साथ मुख्य कार्यकर्ता ज्ञान अवस्थी और अन्य सहयोगी कार्यकर्ता विपिन दिवाकर, अनूप मौर्या व रत्नेश पिछले कई दिनों से लगातार काम कर रहे हैं।

Heim Foundation

Heim Foundation मुख्य रूप से अनाथ, बेसहारा, गरीब बच्चों के लिए काम करती है। यह फाउंडेशन बच्चों को पढ़ाने, उनके रहने,खानपान और स्वास्थ्य का भी पूरा ख्याल रखती है। इसके साथ ही Heim Foundation महिलाओं को उनकी सुरक्षा और स्वच्छता के लिए जागरूक भी करती है और उनकी आवश्यकताओं का समान उन्हें उपलब्ध कराती है। Heim Foundation का लक्ष्य है कि समाज में हर कोई जागरूक हो। सभी बच्चों का भविष्य सुरक्षित हो और हर बच्चा बड़ा होकर तरक्की करें व देश का नाम रोशन करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here