मुजफ्फरनगर बस एक्सीडेंट में छह मजदूरों की मौत

6 migrant laborers killed in Muzaffarnagar bus accident
image source - google

पूरे देश में लॉक डाउन के चलते विभिन्न राज्यों में रोजी रोटी कमाने गए मजदूर और श्रमिक फंसे हुए हैं। इन सभी को स्पेशल ट्रेनों के द्वारा इनके गंतव्य तक पहुंचाया जा रहा है। लेकिन अभी भी लाखों मजदूर पैदल ही यात्रा कर रहे हैं। इस दौरान कई भूख से तो कई गाड़ियों की चपेट में आने से मर रहे हैं। ऐसा ही हादसा कल रात बुधवार को 10:30 बजे रोहना टोल पर हुआ। जिसमें छह मजदूरों ने अपनी जान गवा दी।

कल रात बुधवार को रात 10:30 बजे एक रोडवेज बस ने मुजफ्फरनगर में 10 मजदूरों को अपनी चपेट में ले लिया। इस दुर्घटना में छह मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि 4 मजदूर बुरी तरह घायल हुए हैं। इनमें से दो की हालत गंभीर बनी हुई है। 2 को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जबकि बाकी दोनों को मेरठ रेफर कर दिया गया। इस दुर्घटना की जांच में पता चला है कि बस ड्राइवर ने शराब पी रखी थी। जिसकी वजह से यह दुर्घटना हुई है। आरोपी ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया गया है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मृतक मजदूरों के परिवारों को दो-दो लाख रुपए और घायलों को 50 50 हजार रुपए का मुआवजा देने का ऐलान किया है। वहीं इस दुर्घटना को लेकर समाजवादी पार्टी के नेता और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा की “यूपी के मुजफ्फरनगर बस हादसे में प्रवासी मजदूरों की दर्दनाक मौत पर गहरा दुख श्रद्धांजलि! पहले ट्रेन और अब बस हादसा, मजदूरों की जिंदगी इतनी सस्ती क्यों? वंदे भारत मिशन में क्या देश की गरीब जनता नहीं आ सकती। इतना ऊपर भी उड़ना ठीक नहीं की जमीन की सच्चाई की उपेक्षा हो जाए।

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen − 7 =