कानून मंत्री बृजेश पाठक का बयान

बृजेश पाठक ने बयान दिया कि सदन में हमने सभी को बुलाया था। सर्वदलीय बैठक में ये तय हुआ था कि हम सभी लोग मिलकर गाँधी जी को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे और उत्तर प्रदेश के विकास के जो लक्ष्य हैं उनपर चर्चा करके एक परिणाम निकला जायेगा, उसपर प्रदेश आगे बढ़ेगा। उन्होंने ये भी कहा कि विपछ के शामिल नहीं होने का मुझे दुःख है। पर वो मानते हैं कि विपछ के इस निर्णय से वो खुद ही पछ्ता रहे होंगे।

BSP सुप्रीमो का बड़ा फैसला, राजस्थान कार्यकारिणी किया भंग

बृजेश ने बयान में कहा कि रात के 2 बजे तक लगातार उसी उर्जा के साथ सदन चल रहा था। इसमें कोई दो राय नही है कि विधायकों में अभी भी जोश है। हर विधायक अपनी बात रख रहे थे। और योगी आदित्यनाथ खुद मौजूद है हर विधायक अपनी बात रख रहा है आज का दिन ऐतिहासिक है।