दरोगा के बेटे ने किया था नाबालिग का रेप, मेडिकल के लिए गए पिता की सड़क हादसे में मौत

Rape victim's father dies
image source - google

घाटमपुर कोतवाली के कस्बा क्षेत्र में बुधवार सुबह उस वक़्त हड़कंप मच गया,जब रेप पीड़िता किशोरी के पिता की सड़क हादसे में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। वही सूचना पर पहुची पुलिस ने परिजनों को घटना की जानकारी देते हुए मृतक का शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

घटना की जानकारी होने पर पूरे परिवार में कोहराम मच गया। वहीं परिजनों ने सागर राष्ट्रीय राज मार्ग को जाम करते हुए जमकर हंगामा काटते हुए मृतक की हत्या का आरोप लगाया।

बेटी के मेडिकल के लिए गया था पिता

बताते चले कि मृतक रेप पीड़िता के पिता है, जो कि बेटी के मेडिकल के लिए सी एच सी घाटमपुर आये हुए थे, बुधवार सुबह किसान चाय पीने के लिए भाई के साथ गए थे। जंहा सड़क हादसे में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मामले की जानकारी होते स्थानीय लोगो की भीड़ जुटना शुरू हो गई। स्थानीय लोगो ने इस घटना की जानकारी पुलिस को दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने परिजनों को घटना की जानकारी देते हुए मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

इस घटना की जानकारी होते सागर राष्ट्रीय राजमार्ग पर आक्रोशित ग्रामीणों का हुजूम लगना शुरू हो गया। आक्रोशित ग्रामीणों ओर परिजनों ने मृतक की हत्या का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा काटना शुरू कर दिया। वहीं मामले की जानकारी होते मौके पर पहुची पुलिस ने आक्रोशित ग्रामीणों और परिजनों को शांत कराते हुए उचित कार्यवाही करने का आश्वासन दिया। पुलिस ने ग्रामीणों और परिजनों को शांत कराते हुए सागर हाइवे पर बाधित यातायात को शुचारु रूप से शुरू करवाया।

दरोगा के बेटे ने साथी के साथ मिलकर किया था रेप 

बता दें मृतक की 13 वर्षीय बेटी के साथ गाव के ही एक दरोगा पुत्र दीपू ने अपने साथी गोलू के साथ मिलकर सोमवार रात दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया था। वहीं परिजनों द्वारा पुलिस में शिकायत करने को लेकर दबंग युवको ने परिजनों को धमकी भी दी थी। जिस पर पुलिस ने मामले की जांच करते हुए किशोरी को मेडिकल के लिए भेज दिया था और पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है। हालांकि पुलिस सभी बिन्दुओ को ध्यान में रखकर मामले की जांच में जुटी हुई है।

बेसिक शिक्षा: फर्जी दस्तावेज लगाकर नौकरी हथियाने वाले अध्यापक का भंडाफोड़

परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए बताया कि पुलिस उनकी बेटी को उसके पिता के साथ मेडिकल के लिए ले गई थी, जहां पुलिस ने मिलीभगत के चलते किशोरी के मेडिकल सही नही करवाया,वही अस्पताल से बाहर जाते वक्त सड़क हादसे में उन्होंने अपना बेटा भी खो दिया है।

डीआईजी प्रतिन्दर सिंह ने बताया कि गैंगरेप मामले में पुलिस ने एक मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी कर ली है। पुलिस टीम गठित करके अन्य दो आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here