बीट पुलिसिंग के बिना अपराध रोकना संभव नहीं है-किरण बेदी

google

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 22 वर्ष बाद आयोजित 47वीं अखिल भारतीय पुलिस साइंस कांग्रेस कार्यक्रम के दौरान उपस्थित मुख्य अतिथि लेफ्टिनेंट गवर्नर डॉ. किरण बेदी ने इस कार्यक्रम में आये देश भर से पुलिस के आलाधिकारियों को संबोधित किया। उन्होंने कहा की उत्तर प्रदेश की पुलिस को कुम्भ आयोजन और अयोध्या मामले में शानदार कार्य करने के लिए बधाई दी।

इस कार्यक्रम के दौरान किरण बेदी ने कहा कि इस समय पूरे देश में बीट पुलिसिंग की सख़्त जरूरत है। बीट पुलिसिंग से हमको हर व्यक्ति की जानकारी होती है। उन्होंने कहा की हर इलाके में बीट बॉक्स या बूथ होना चाहिये। जहां बीट पुलिसमैन बैठता हो।हम जनता की मदद से हम बीट बॉक्स या बूथ बना सकते है। क्योकि हमने दिल्ली में

किरण बेदी ने किया दिल्ली पुलिस का समर्थन,कल पुलिस ने किया था याद

इसलिए हमें राजधानी में भी जनता की मदद से बीट बॉक्स और बूथ बनाने चाहिए। क्योकि बीट पुलिसिंग सारी पुलिसिंग की रीढ़ होती है। उन्होंने कहा कि मेरे मैग्सेसे अवॉर्ड में बीट बॉक्स का जिक्र है। बीटपुलिसिंग का आज भी कोई विकल्प नहीं है। बीट पुलिसिंग में कॉन्स्टेबल को जिम्मेदार बनाया जाता है।इसलिए बीट पुलिसिंग के लिए बेहतरीन कॉन्स्टेबल को चुनना चाहिए।और आला अधिकारियों को भी बीट पुलिसिंग में हिस्सा लेना चाहिए। बीट पुलिसिंग के बिना अपराध रोकना संभव नहीं है।