बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री डॉ० सतीश द्विवेदी ने अधिकारियो को विद्यालयों की शिक्षा व्यवस्था को सुधारने के निर्देश दिए

उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ० सतीश द्विवेदी जी की अध्यक्षता में शुक्रवार को विभागीय अधिकारियों के साथ आज बैठक हुई। बैठक में बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री ने अधिकारियों व कर्मचारियों को निर्देश दिया कि वह अपने पूर्ण मेहनत, ईमानदारी के साथ अपने कार्यों को करें। कार्य में किसी प्रकार की लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

प्रेरणा ऐप से होगा विद्यार्थियों का उद्धार

डॉक्टर सतीश द्विवेदी ने कहा की 23 अक्टूबर 2019 तक प्रेरणा ऐप के माध्यम से उत्तर प्रदेश के विद्यालयों को जिन सुविधाओं की आवश्यकता है वे उन्हें 2020-21 तक उपलब्ध कराई जाएंगी। जैसे शौचालय, पेयजल,विघुत आदि। यानी आने वाले एक दो सालों में विद्यालयों का पूर्ण रूप से नवीनीकरण कर दिया जाएगा।

यूपी के शिक्षक महासंघ द्वारा किया गया विरोध प्रदर्शन

जिन परिषदिय विद्यालयों की हालत बहुत खराब है उनकी तत्काल मरम्मत कराई जाए और कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में गुणवत्ता सुधार के लिए परफॉर्मेंस इंडिकेटर्स निर्धारित कर श्रेणीकरण की व्यवस्था लागू कि गयी।

2020 तक सर्व शिक्षा अभियान में पीएफएमएस लागू करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।मानव सम्पदा पोर्टल के द्वारा शिक्षकों के अवकाश का आनलाइन निस्तारण किया जायेगा।

माननीय मंत्री जी द्वारा 13 व 14 दिसंबर 2019 को राष्ट्रीय स्तर का सेमिनार आयोजित किए जाने के निर्देश है सेमिनार में समस्त प्रदेशों के 5 प्रतिभागी व यूपी के प्रत्येक जनपद से 5 प्रतिभागियों जिसमें एक अधिकारी भी सम्मिलित होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here