पुलिस की मिलीभगत से लगातार चल रहा अवैध खनन का धंधा?

Illegal mining business
image source - google

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा खनन माफियाओं पर सख्त कार्रवाई के बीच शहर रायबरेली में अवैध खनन का धंधा लगातार प्रगति पर है। पुलिस की मिलीभगत से रोजाना दर्जनों ट्रैक्टर ट्राली और डम्पर मिट्टी भराई के काम में जुटे हैं। जिन पर अंकुश लगाने के लिए जिले का कोई भी उच्च अधिकारी सामने नहीं आ रहा है।

खनन विभाग से लेकर राजस्व विभाग के अधिकारी शहर में चल रहे अवैध खनन पर पूरी तरह से खामोश है। नतीजा यह है कि जिला मुख्यालय पर निर्माणाधीन सरकार के बड़े प्रोजेक्ट में भी इन खनन माफियाओं ने सरकार को चूना लगाने की पहल शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार अवैध खनन का यह पूरा खेल हरचन्दपुर थाना क्षेत्र के डेडौली और शहर कोतवाली के ठोकरी गांव की तरफ से संचालित है। जहां प्रतिदिन दर्जनों की संख्या में वाहन मिट्टी खुदाई करके शहर में प्रवेश करते हैं। जिनमें कुछ डम्फर राजमार्ग से होकर त्रिपुला के रास्ते रतापुर और सिविल लाइन की तरफ जाते हैं।

सीएम योगी: 2 मई के बाद जब भाजपा की सरकार आएगी तो TMC के गुंडों को चुन चुनकर…

इसके साथ ही रेलवे की साइटों पर भी अवैध खनन वाली मिट्टी पड़ रही है। उसके बाद भी पुलिस प्रशासन कहीं कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। उधर इस संबंध में जब अपर जिलाधिकारी प्रशासन राम अभिलाख से बात की गई तो उन्होंने कहा कि मामला संज्ञान में आया है विभागीय अधिकारियों के माध्यम से जांच करा कर आवश्यक कार्रवाई की बात उन्होंने कही है।

रिपोर्ट – अभिषेक बाजपेयी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here