ICC करने जा रहा टेस्ट मैच में बड़ा बदलाव

icc test match
image source - google

टेस्ट क्रिकेट में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) बड़ा बदलाव करने जा रही है। आईसीसी टेस्ट क्रिकेट को पांच दिन के बजाये चार दिन का करने का विचार कर रही है। आईसीसी चाहता है कि 2023 से टेस्ट चैंपियनशिप के मुकाबले चार दिनों के हों। आईसीसी का कहना है की उसका उद्देश्य 2023 से कैलेण्डर को अधिक स्ट्रीमलाइन करने का है।

इस बात को लेकर क्रिकेट जगत में अलग-अलग विचार सामने आ रहे हैं। जहाँ इंग्लैंड ऐंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड इस विचार से सहमत नजर आ रहा है वहीँ ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर और कोच चार दिनों के टेस्ट क्रिकेट के विचार से खुश नहीं हैं। ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों का कहना है की अगर यह बदलाव होता है तो टेस्ट क्रिकेट सीमित-ओवरों के खेल का एक लंबा प्रारूप बन कर रह जाएगा।

वहीँ दूसरी तरफ इस खेल के आयोजकों का कहना है की लम्बे प्रारूप को लोग अब कम पसंद करने लगे है। खेल में अलग-अलग वैरायटी होनी चाहिए, नई टेस्ट चैंपियनशिप के साथ चार दिन के टेस्ट मैच, चीजों को फिर तरोताजा कर देंगे। इससे इस खेल के प्रति लोगों का इंट्रेस्ट बढ़ेगा और इस बात से प्रशासक और प्रसारणकर्ता सहमत हैं।

आईसीसी ने अपना पक्ष रखते हुए कहा है कि टेस्ट मैचों को चार दिन का कर दिया जाता है तो इससे बचे वक्त से शेड्यूल का बेहतर किया जा सकेगा। इससे खिलाडियों को अधिक विश्राम का समय तो मिलेगा ही साथ ही इसका फायदा टेस्ट क्रिकेट को भी मिलेगा। चार दिनों का टेस्ट मैच गुरुवार को शुरू होगा और रविवार को समाप्त होगा। इससे न सिर्फ टिकटों की बिक्री बढ़ेगी बल्कि टीवी पर दर्शकों की संख्या में भी इजाफा होगा।