कैसे बनी हेमा फ़िल्मी दुनिया की ‘ड्रीमगर्ल’

बॉलीवुड की मशहूर कलाकार हेमा मालिनी जिन्हे उनकी खूबसूरती और टैलेंट के लिए ड्रीमगर्ल के नाम से भी जाना जाता है। बॉलीवुड एक्ट्रेस होने के साथ ही अब हेमा मालिनी सांसद भी है। जो आज 71 बर्ष की हो चुकी है। बॉलीवुड की ड्रीमगर्ल उन अभिनेत्रियों में से हैं, जिनकी खुबसूरती की तारीफ आज भी की जाती है। उनकी खूबसरती इस कदर लोगो के दिलो में छायी थी कि कई रीज़नल सिनेमा ने तो हेमा मालिनी की सुंदरता को लेकर गाने भी बना दिए है। मगर हेमा मालिनी ने फिल्मी दुनिया में अपनी पहचान सुंदरता से ही नहीं बल्कि अपने अभिनय से भी बनायीं है।

फ़िल्मी दुनिया की ड्रीमगर्ल ने छोड़ी पढ़ाई

दक्षिण भारत में जन्मी हेमा मालिनी ने बॉलीवुड में जो नाम कमाया है, वो नाम पाना किसी के लिए भी बहुत मुश्किल है। अपनी अभिनय के दम पर हेमा आज ड्रीमगर्ल बनी है। इस मुकाम तक पहुंचने के लिए उन्हें कई दिक्कतों का समान करना पड़ा है। हेमा मालिनी चेन्नई के एक स्कूल में पढ़ती थीं।

“सेक्शन 375” और “ड्रीम गर्ल” के साथ हुई रिलीज सलमा को मिल रहे अच्छे रिव्यूज

जहां उन्होंने 10वीं कक्षा तक ही पड़ा है। उन्होंने 10वीं कक्षा तक पढ़ाई सिर्फ इसीलिए की है, क्योंकि वह इतनी खूबसूरत और टैलेंटेड थी कि उन्हें 10वीं कक्षा से ही फिल्मों के ऑफर आने लगे थे। वो ऑफर इतने ज्यादा थे कि एक बार को उन्हें भी लगा कि उनका उन्हें फ़िल्मी दुनिया को आपनाना चाहिए। जिसके बाद उन्होंने 11वीं कक्षा से ही फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था।

कैसे बनी हेमा फ़िल्मी दुनिया की ड्रीमगर्ल

हेमा का फ़िल्मी करियर बहुत ही शानदार है। लेकिन इस सफर को शानदार बनाने के लिए हेमा को काफी मेहनत करनी पड़ी है। उन्होंने साल 1961 में एक तेलगु फिल्म ‘पांडव वनवासन’ की थी, जिसमे हेमा ने एक नर्तकी का किरदार निभाया था। उसके बाद फिर हेमा ने 1968 में फिल्म ‘सपनों के सौदागर’ से अपने फ़िल्मी करियर की शानदार शुरुआत की। इस फिल्म में खास बात यह थी कि उस फिल्म में मुख्य किरदार के रूप में हेमा को राज कपूर मिले थे। बताया जाता है भले ही वह फिल्म हेमा की पहली फिल्म हो , लेकिन उसी फिल्म के दौरान राज कपूर ने यह कहा था कि हेमा एक दिन फ़िल्मी दुनिया का बहुत बड़ा सितारा बनेंगी और हुआ भी कुछ ऐसा ही है।

इसके बाद हेमा की एक और फिल्म 1970 में ‘जॉनी मेरा नाम’ आयी, जो सुपरहिट हुई और हेमा का फ़िल्मी सफर धीरे-धीरे आसमान छूने लगा। हेमा ने 1972 में हिट फिल्म ‘सीता और गीता’ में डबल रोल निभाया था। जिसके बाद वह रातोंरात स्‍टार बन गईं। इस फिल्म के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार भी दिया गया था। इसी तरह हेमा ने कई सुपरहिट फिल्म की जैसे 1975 में शोले, 1977 में ड्रीमगर्ल, 1982 सत्ते पे सत्ता ,2003 भगबान की। इनके आवला भी हेमा मालिनी ने सैकड़ो फिल्मे की है। जिसके कारण ही उन्हें फ़िल्मी दुनिया की ड्रीमगर्ल कहा जाता है।