भारी बारिश और नदी में छोड़े पानी से आई बाढ़ में गई 16 लोगों की जान

पहाड़ो पर हो रही लगातार बारिश के चलते लखीमपुर खीरी की प्रमुख नदियों ने विकराल रूप धारण कर लिया। बैराज से लगभग 6 लाख क्यूसेक पानी शारदा नदी में छोड़ा गया है जिस कारण जिले की कई तहसीलों में बाढ़ का कहर बरप रहा है। शहर हो या गांव लोग बाढ़ के पानी के कारण पलायन करने को मजबूर हैं।

लखीमपुर खीरी के तहसीलदार धौरारा के ग्राम मिर्जापुर मे बाढ़ के पानी के कारण 16 ग्रामीण खेत देखने एक नाव पर सवार होकर जा रहे थे। पानी का बहाव तेज होने के कारण नाव पलट गई 16 ग्रामीणों की नाव पलटने की सूचना से अफरा-तफरी का माहौल हो गया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे डीएम व एसपी ने पीएसी की रेस्क्यू टीम से सर्च ऑपरेशन चलवाया।

काफी मशक्कत के बावजूद भी टीम को नदी के तेज बहाव के कारण बीच रास्ते से ही वापस आना पड़ा। रेस्क्यू टीम ने कुछ लोगो के एक टापू पर होने की सूचना दी। डीएम ने तत्काल एनडीआरएफ की टीम बुलवाई व सेना का हेलीकॉप्टर बुलवाया। सेना के हेलीकॉप्टर ने टापू पर मौजूद लोगों को तीन राउंड करके 15 लोगो को रेस्क्यू करके सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया।

bhulekh up: bhulekh naksha up इस तरह निकालें किसी भी जमीन की पूरी डिटेल्स

वही एक मृतक का शव पहुचाया। बहराइच बॉर्डर के जालिम नगर मे 17 लोग एक नाव पर सवार थे, जो पलट गई। प्रशासन ने 5 लोगों को रेस्क्यू करके सुरक्षित बचाया। 4 लोगों के सुरक्षित होने की सूचना मिली। वहीं एनडीआरएफ की मदद से अन्य लोगों का सर्च ऑपरेशन जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × 5 =