स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही,संक्रमण फैलने का बना खतरा, दहशत में ग्रामीण

Health department's negligence
Lalitpur

ललितपुर:। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए शासन और प्रशासन कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ जिला ललितपुर से स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही देखने को मिली है जहां एम्बुलेंस चालक खुले में पी पी ई फेंक रहे हैं जिससे संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है तो वहीं इससे ग्रामीण दहशत में भी हैं।

खुले में फेंकी जा रही पी. पी. ई. किट

कोरोना पॉजिटिव मरीजों को संक्रमण रोकने के एवं स्वास्थ्य लाभ देने के उद्देश्य के जहां एक ओर शासन-प्रशासन मरीजों को कोरन्टीन कर स्वास्थ्य लाभ पहुंचा रहा है। इसके अलावा मास्क लगा कर घर से निकलने के निर्देश भी जारी किए जा रहे है जिससे की सक्रमण न फैले।

वहीं दूसरी ओर एंबुलेंस चालक पीपीई  किट उतारकर रास्ते में गांव के पास फेकने का कार्य कर रहे हैं। जिससे संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है। आपको बता दें ललितपुर जनपद के तालबेहट तहसील में एल 1 कोविड-19 हॉस्पिटल खोला गया जहां  कोरोना पॉजिटिव मरीजों को 14 दिन के लिए कोरन्टीन किया जा रहा है।

राजकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज को कोविड-19 L1 हॉस्पिटल बनाया गया है इस हॉस्पिटल में जो भी एंबुलेंस चालक मरीजों को छोड़ने आ रहे हैं वह वापस लौटते समय अपनी पीपी ई  किट उतारकर रास्ते में फेंक देते हैं।

ग्रामीणों ने बताया कि यहां ये एम्बुलेंस चालक संक्रमण फैला रहे हैं,जबकि संक्रमण के खतरे को रोकने के लिए स्केट को जला देना चाहिए लेकिन उनके द्वारा ऐसा नहीं किया जा रहा। रास्ते में यहां हॉस्पिटल से 100 मीटर की दूरी पर गांव के किनारे यह फेक कर चले जाते हैं 2 दिन से ऐसा ही किया जा रहा है।

लेकिन इसकी खबर जब चिकित्सालय प्रशासन को हुई तो उन्होंने तुरंत अपना एक कर्मचारी भेज कर वहां पड़ी हुई पी पी किट वापस उठवा ली।

रिपोर्ट:-शैलेश जैन…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here